पनामा पेपर्स लीक मामले का खुलासा करने वाली पत्रकार की कार बम ब्लास्ट में हत्या

0
720

वालेटा 17 अक्टूबर। पनामा पेपर्स लीक मामले का खुलासा करने वाली खुफिया पत्रकार के तौर पर पहचानी जाने वालीं पत्रकार डैफनी कैरुआना गलिजिया की हत्या कर दी गई है। उनकी हत्या मंगलवार को कार में बम ब्लास्ट कर की गई, हत्या के बाद पत्रकारों में आक्रोश है।

आपको बता दें कि माल्टा में शानदार खुफिया पत्रकार के तौर पर पहचाने जाने वालीं डैफनी’वन-वोमेन विकीलीक्स’ के रूप में जाना जाता था। कहा जाता है कि वह एक ऐसी ब्लॉगर थीं जिनकी पोस्ट को देश में सभी समाचारों को मिलाकर जितनी प्रसार संख्या बनती है, उससे भी अधिक लोगों द्वारा पढ़ा जाता था।

द गार्डियन की रिपोर्ट के अनुसार, डाफ्ने कारुआना गालिजिया की सोमवार को उस वक्त मौत हो गई जब उनकी कार प्यूजो 108 को एक शक्तिशाली विस्फोटक द्वारा उड़ा दिया गया।

द गार्डियान के अनुसार, किसी संगठन और व्यक्ति ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। माल्टा की राष्ट्रपति मैरी-लुईस कोलिरो प्रेका ने कहा, “ऐसे क्षण में जब देश इस तरह के घातक हमले से हैरान है, मैं सबसे आग्रह करती हूं कि अपने शब्दों पर विचार करें, कोई निर्णय ना दें और एकजुटता दिखाएं।”

एक बयान में मस्कट ने इस बर्बर हमले की निंदा की है। उन्होंने कहा, “सब जानते है कि कारुआना गालिजिया राजनीतिक और व्यक्तिगत, दोनों ही रूप से मेरी आलोचक थी। लेकिन, कोई भी इस बर्बर कृत्य का औचित्य साबित नहीं कर सकता है।” उन्होंने सोमवार को संसद में घोषणा की कि अमेरिकी सरकार से मदद के अनुरोध के बाद, फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआई) के अधिकारी जांच में सहायता के लिए माल्टा आ रहे हैं।

पनामा पेपर्स लीक का 2016 में किया था बड़ा खुलासा

  • साल 2016 की शुरुआत में अमेरिका स्थित एक एनजीओ खोजी पत्रकारों के संघ ICIJ ने एक बड़ा खुलासा किया था। इसमें बताया गया कि कई देश टैक्स हेवेन बने हुए हैं और तमाम देशों के राजनेता और अन्य क्षेत्रों से जुड़ी हस्तियां यहां पैसा निवेश कर टैक्स बचा रही हैं।
  • इस खुलासे की वजह से नवाज शरीफ को अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी थी। वहीं कारुआना गालिजिया ने 15 दिन पहले पुलिस रिपोर्ट दर्ज कराई थी जिसमें उन्होंने कहा कि उन्हें मौत की धमकी मिल रही है। पत्रकार ने वेबसाइट पर सोमवार को अपरान्ह 2.35 बजे अपना अंतिम ब्लॉग पोस्ट किया और 3 बजे पुलिस को उनके घर के पास विस्फोट होने की सूचना मिली।
  • इस खुलासे में तमाम, राजनेता, फ़िल्मी हस्तियों और खिलाडियों के नाम शामिल थे। इस खुलासे के बाद तो जैसे हंगाम मचा गया। करीब 140 राजनेताओं, अरबपतियों की छिपी संपत्ति का भी खुलासा हुआ था। खुलासा करने वाले पत्रकारों के समूह में डैफनी अगुवा पत्रकार रही थीं।
  • इस खुलासे में यूक्रेन के राष्ट्रपति, सऊदी अरब के शाह और डेविड कैमरन के पिता का नाम प्रमुख था। इनके अलावा लिस्ट में व्लादिमीर पुतिन के करीबियों, अभिनेता जैकी चैन और फुटबॉलर लियोनेल मेसी का नाम भी था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here