प्रधानमंत्री केदारनाथ पहुंचे, मंदिर में पूजा-अर्चना की

0
427

देहरादून- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच उत्तराखंड के केदारनाथ धाम पहुंचे जहां उन्होंने भगवान शिव की पूजा-अर्चना की तथा गौरीकुंड से केदारनाथ के लिए रज्जूमार्ग परियोजना की आधारशिला रखी।

अपने दो दिवसीय उत्तराखंड भ्रमण की शुरुआत केदारनाथ से करते हुए प्रधानमंत्री हेलीपैड से सीधे मंदिर पहुंचे और भगवान शिव का रूद्राभिषेक किया। वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मंदिर के पुजारियों ने विधि-विधान से उनकी पूजा संपन्न कराई। इस दौरान, पुजारियों ने भगवान से प्रधानमंत्री को देश को आगे ले जाने के लिए शक्ति देने की कामना की।

मोदी के दौरे के मद्देनजर केदारनाथ मंदिर को कई क्विंटल फूलों से सजाया गया था। इस दौरान प्रधानमंत्री द्वारा पहने गए सफेद रंग के पहाड़ी परिधान और पहाड़ी टोपी ने सबका ध्यान अपनी ओर खासतौर पर आकृष्ट किया। मंदिर में पूजा में बैठे मोदी के परिधान पर ‘‘स्वास्तिक’’ का चिह्न भी दिखाई दिया।

पूजा के बाद प्रधानमंत्री ने 9.7 किलोमीटर लंबे गौरीकुंड-केदारनाथ रज्जूमार्ग परियोजना की आधारशिला रखी। इस रज्जूमार्ग के बनने से कई घंटों में पूरी होने वाली केदारनाथ की कठिन पैदल यात्रा का एक सुगम विकल्प उपलब्ध होगा और श्रद्धालु केवल 30 मिनट में बाबा केदार के द्वार तक पहुंच सकेंगे।

मंदिर से बाहर आने के बाद प्रधानमंत्री ने वहां मौजूद श्रद्धालुओं का हाथ हिलाकर अभिवादन भी किया। इस दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) गुरमीत सिंह, प्रदेश के मुख्य सचिव सुखबर सिंह संधु भी मौजूद रहे।

प्रधानमंत्री इसके बाद आदि गुरु शंकराचार्य के समाधि स्थल के दर्शन के लिए गए और उनकी प्रतिमा के समक्ष कुछ समय बिताया। वर्ष 2013 की आपदा में क्षतिग्रस्त हुए आदि गुरु के समाधिस्थल का प्रधानमंत्री ने पिछले साल लोकार्पण किया था।

केदारनाथ में जारी विभिन्न विकास कार्यों का जायजा लेने के साथ ही उन्होंने कार्य कर रहे श्रमिकों से भी बातचीत की।केदारनाथ से प्रधानमंत्री बदरीनाथ जाएंगे। यह मोदी का प्रधानमंत्री के रूप में केदारनाथ का छठा और बदरीनाथ का दूसरा दौरा है। प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी है और चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तैनात हैं।

प्रधानमंत्री बदरीनाथ मंदिर में दर्शन और पूजा अर्चना करने के बाद वहां रिवरफ्रंट के विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा करेंगे। प्रधानमंत्री बदरीनाथ और केदारनाथ में करीब 3400 करोड़ रुपये की सड़क और रज्जूमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास भी करेंगे। बदरीनाथ के निकट स्थित सीमांत माणा गांव में सड़क और रज्जूमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास करने के बाद वह लोगों को संबोधित भी करेंगे। इसके बाद वह अराइवल (आगमन) प्लाजा और झीलों के सौंदर्यीकरण कार्यों की प्रगति की समीक्षा करेंगे। प्रधानमंत्री शुक्रवार को रात्रि विश्राम बदरीनाथ में करेंगे।

इससे पहले, प्रधानमंत्री सुबह भारतीय वायु सेना के विमान से देहरादून के निकट जौलीग्रांट हवाई अड्डा पहुंचे जहां राज्यपाल, मुख्यमंत्री और केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने उनकी अगवानी की।

 

Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here