प्रयागराज हिंसा-मास्टरमाइंड जावेद के घर पर चला बुलडोजर, घर से पोस्टर और झंडे बरामद

0
314

प्रयागराज । उप्र के प्रयागराज में बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद उपजी हिंसा और उपद्रव की वारदात के मास्टरमाइंड मोहम्मद जावेद अहमद उर्फ जावेद पंप के करेली स्थित मकान को प्रयागराज विकास प्राधिकरण (पीडीए) ने रविवार को बुलडोजर लगाकर ध्वस्त कर दिया। जावेद के मकान को ध्वस्त करने के लिए जेसीबी मशीन और भारी संख्या में पुलिस बल सुबह 10ः30 बजे ही करेली थाना पर पहुंच गए थे और दोपहर करीब 12 बजे ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू कर दी गई।
जब बुलडोजर से जावेद अहमद के घर को तोड़ा जा रहा था उसी दौरान उसके घर से कुछ विरोध करने वाले झंडे और पोस्टर बरामद हुए हैं। पीडीए के एक अधिकारी ने बताया कि जावेद का मकान पीडीए से नक्शा पास कराए बगैर बनाया गया था जिसके लिए उसे 10 मई, 2022 को नोटिस जारी किया गया था और उसे अपना पक्ष रखने के लिए 24 मई, 2022 की तिथि आबंटित की गई थी। उन्होंने बताया कि निर्धारित तिथि पर जावेद या फिर उनका वकील नहीं आया और ना ही कोई अभिलेख प्रस्तुत किया गया, इसलिए 25 मई को ध्वस्तीकरण आदेश पारित किया गया।
वहीं, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने बताया था कि जावेद अहमद को पुलिस हिरासत में लेकर उससे गहनता से पूछताछ की जा रही है जिसके आधार पर अन्य लोगों की गिरफ्तारी की जाएगी। जावेद शुक्रवार को हुए पथराव का मास्टरमाइंड है। उल्लेखनीय है कि प्रयागराज के करेली और खुल्दाबाद इलाके में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद हुए पथराव के मामले में पुलिस ने 70 नामजद अभियुक्तों और 5000 से भी ज्यादा अज्ञात शरारती तत्वों के खिलाफ 29 गंभीर धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने घटना के 24 घंटे के भीतर 68 उपद्रवियों को हिरासत में लिया जिसमें चार उपद्रवी नाबालिग पाए गए जिन्हें बाल संप्रेक्षण गृह भेज दिया गया, वहीं 64 उपद्रवियों को सेंट्रल जेल नैनी भेजने का आदेश दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here