क्रेडिट लेने के बजाय रोड का काम शुरू हो, वरना होगा आंदोलन: अनिल कुमार

0
300

पटना/आरा, 28 जून। पूरी तरह जर्जर हो चुके एनएच 30 आरा-मोहनियां मार्ग की मरम्‍मत के लिए केंद्र सरकार ने स्वीकृति तो दे दी है। मगर काम कब शुरू होगा, इसका अभी तक कोई अता-पता नहीं है। न टेंडर हुआ है और न ही कोई सर्वेक्षण। बावजूद इसके कुछ लोगों ने अभी से ही इसका क्रेडिट लेने का काम शुरू कर दिया। यह बातें आज जनतांत्रिक विकास पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष श्री अनिल कुमार ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कही।

उन्‍होंने कहा कि आरा-मोहनियां मार्ग एनएच 30 शाहाबाद की लाइफ लाइन है। लेकिन ये तब तक कोई देखने वाला नहीं था, जब तक हमने आमरण अनसन नहीं किया। तब केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने हमें रोड के निर्माण का आश्‍वासन देकर भूख हड़ताल खत्‍म करवाया था। उसके बाद आज छह महीने से भी अधिक हो गए, मगर फिर भी एनएच 30 की सुध लेने वाला कोई नहीं था। लेकिन जैसे ही सिर्फ केंद्र द्वारा आरा-मोहनिया रोड के मरम्‍मत के लिए 106 करोड़ की मंजूरी मिली है, तब से चुनावी फायदा के लिए लोग अपना महिमामंडन करने में जुट गए हैं। इससे पहले उनको इस मार्ग की कोई चिंता नहीं थी।

उन्‍होंने बताया कि हमने इस सड़क के पुननिर्माण के लिए 21 दिसंबर से 23 दिसंबर 2017 में आरा से मोहनिया तक पद यात्रा कर सरकार का ध्‍यान आकृष्‍ट कराने की कोशिश की थी। उन्होंने कहा कि यदि काम जल्‍द शुरू नहीं हुआ, तो पार्टी व्‍यपाक स्‍तर पर आंदोलन करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here