हर छोटी-बड़ी जरूरतों को पूरा करेंगे हेल्पी, खुलेंगे भोपाल में रोजगार के नए अवसर

0
1453

हेल्पी के यूजर फ्रेंडली फीचर्स से होगी हर सामान की डिलीवरी, चालकों के लिए रोजगार का बेहतर मौका, ड्राइवर्स के लिए खुलेंगे नए मौके

भोपाल 21 अगस्त 2020: आपने शायद ‘हेल्पी’ का नाम तो सुना होगा! नहीं सुना तो भी कोई दिक्कत नहीं, नाम से ही बहुत कुछ साफ़ है कि यहां किसी प्रकार से मदद या सहायता की बात हो रही है। अब सवाल ये उठता है कि किस प्रकार की मदद? दरअसल मध्यप्रदेश के उज्जैन में जन्में 27 वर्षीय एन एस रघुवंशी को शुरू से ही लोगों का सहायक बनना पसंद था। नए जमाने का होने के कारण, टेक्नोलॉजी से भी उनका खास नाता रहा, जिसे उन्होंने लोगों की सहायता करने के लिए बखूबी इस्तेमाल किया। इस उद्देश्य के साथ एन एस रघुवंशी ने एक ऐसी बेमिसाल ऐप्लिकेशन “हेल्पी” का निर्माण कर डाला जो महज एक क्लिक पर आपकी पहियों से जुड़ी किसी भी दिक्कत को दूर कर देती है। पहियों की दिक्कत से हमारा तात्पर्य है ट्रांसपोर्ट से जुड़ी किसी भी समस्या का समाधान ! हेल्पी न सिर्फ आपको एक बेहतरीन यूजर फ्रेंडली इंटरफ़ेस देता है बल्कि आपके छोटे-मोटे पर्स, मोबाइल, घड़ी जैसे रोजमर्रा के सामानों को भी आप तक सुरखित पहुंचाने में मदद करता है। ख़ास बात यह है कि हेल्पी के माध्यम से ड्राइविंग के क्षेत्र में सैकड़ों रोजगार भी उत्पन्न होंगे।

फीचर्स से लैस है हेल्पी:

सबसे पहले आसान भाषा में समझते हैं हेल्पी किस प्रकार आपकी मदद करता है। तो आपकी सेवा में तत्काल हाजिर होने के लिए हेल्पी के पास सभी प्रकार के हैवी-नॉन हैवी वेह्कल्स मौजूद हैं। इसमें दो पहिया तीन पहिया से लेकर लोडिंग ऑटो, एलसीवी, एमसीवी, एचसीवी तब शामिल हैं। अब आपको अपने या अपने किसी के लिए राइड बुक करनी हो, घर या ऑफिस का सामान एक जगह से दूसरी जगह शिफ्ट कराना हो, किसी दुकान से कोई आर्डर पिक करना हो, या घर बैठे जरुरी का कोई सामन खुद तक सुरक्षित पहुचाना हो। महज 15 मिनट में एक आसान प्रोसेस के साथ आप अपनी सुविधानुसार गाड़ी बुक कर सकते हैं। खास बात यह है कि आप अपनी बुकिंग की लाइव ट्रैक करने के साथ-साथ आगे के लिए शेड्यूल भी कर सकते हैं।

कैसे काम करता है हेल्पी:

आपको अपनी कोई भी राइड 10 से 15 मिनट पहले बुक करनी पड़ती है। इसके बाद आप कौन सा आइटम पिक या ड्राप करना चाहते हैं उसकी जानकारी भरनी होती है। इसके साथ ही आपको फेयर की जानकारी भी मिल जाती है। अगर आप किसी अन्य के लिए राइड बुक कर रहे हैं तो उनकी जानकारी भरना भी जरुरी है। एक बार राइड बुक होते ही आपको डिलीवरी बॉय या ड्राइवर की नाम, नंबर जैसी सारी जानकारी उपलब्ध हो जाती है।

ड्राइवर्स के लिए रोजगार का आकर्षक अवसर:

बाइक, बाइक डिलीवरी, एलसीवी, एमसीवी, एचसीवी, ऑटो डिलीवरी, लोडिंग ऑटो और पी & एम सर्विसेस के लिए ड्राइवर्स की भारी डमांड है। ऐसे में सितम्बर माह में लांच होने जा रहे हेल्पी ऐप के साथ जुड़कर न सिर्फ रोजगार प्राप्त किया जा सकता है बल्कि रोजगार की दृष्टि से एक सुरक्षित भविष्य को भी सुनिश्चित किया जा सकता है। जहां आम तौर पर अन्य ट्रांसपोर्ट सर्विस प्रोवाइडर, ड्राइवर्स की रोजाना कमाई का एक बड़ा हिस्सा अपने पास रखते हैं वहीँ हेल्पी एक बड़ा अमाउंट अपने ड्राइवर साथियों के लिए रिज़र्व रखता है। हेल्पी अपने ड्राइवर्स को उनके प्रति किराए का 90 फीसदी हिस्सा देता है। जो सीधे तौर पर उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत करने का काम करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here