चीन ने अनोखा प्रयोग कर बना दिया परमाणु रिएक्टर आधारित सूर्य, 2020 में चमकेगा

0
32
  • 2020 तक शुरू हो जाएगा यह अनोखा रिएक्टर
  • 13 गुना ज्यादा एनर्जी पैदा होगी सूर्य से

अनोखे प्रयोग करने में माहिर चीन ने इस आधुनिक दौर में एक खास प्रयोग कर परमाणु रिएक्टर आधारित सूर्य की ऊर्जा का निर्माण कर रहा है, ख़बरों के अनुसार यह सूरज 2020 में चमकेगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चीन सूरज की ऊर्जा बनाने पर काम कर रहा है। इसे ‘आर्टिफिशल सूरज’ का नाम भी दिया जा रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने सूर्य की ऊर्जा पर आधारित परमाणु रिएक्टर तैयार कर लिया है। रिएक्टर एचएल-2एम को सिचुआन प्रांत की राजधानी में बनाया गया है। कहा जा रहा है कि रिएक्टर 2020 में काम करना शुरू कर देगा। यह एनर्जी क्लीन एनर्जी होगी।

दरअसल, चीन जीवाश्म ईंधन यानी पेट्रोल-कोयला-डीजल पर निर्भरता कम करना चाहता है। यह डिवाइस सूर्य से करीब 13 गुना ज्यादा तापमान पैदा कर सकती है। सूर्य में परमाणु संलयन (न्यूक्लियर फ्यूजन) से एनर्जी पैदा होती है। इस तकनीक पर आधारित रिएक्टर बनाना काफी महंगा है।

रिपोर्ट के मुताबिक चीन इंटरनैशनल थर्मोन्यूक्लियर एक्सपेरिमेंटल रिएक्टर (आईटीईआर) प्रॉजेक्ट का सदस्य है। इसमें भारत, अमेरिका, जापान, दक्षिण कोरिया और रूस भी सदस्य हैं। फिलहाल आईटीईआर का मुख्य मकसद फ्रांस का दुनिया का सबसे महंगा प्रॉजेक्ट है। इसमें 1.4 लाख करोड़ रुपये का रिएक्टर बनाया जा है।

हालाँकि शिंघुआ यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर गाओ झे ने मीडिया से कहा कि इसकी गारंटी नहीं है कि हमें सभी समस्याओं का हल मिल जाएगा। लेकिन हम कुछ नहीं करेंगे तो समस्याएं हल भी नहीं हो पाएंगी। फिलहाल फ्रांस में इस प्रॉजेक्ट पर काम चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here