बाबा राम रहीम के मुख्यालय को सेना ने घेरा, आश्रम खाली कराने को चलेगा अभियान

0
809

‘पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट की फटकार और हिंसा में अब तक 32 लोगों की मौत के बाद सरकार ने सभी डेरा आश्रमों पर सख्ती बरतना शुरु कर दिया ‘

चण्डीगढ़। साध्वी यौन शोषण के मामले में कोर्ट से दोषी करार दिए के बाद आरोपी सच्चा सौदा डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम को पंचकूला समेत हरियाणा, पंजाब व दूसरे राज्यों में फैली हिंसा के बाद सरकार सख्त हो गई है। पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट की फटकार और हिंसा में अब तक 32 लोगों की मौत के बाद सरकार ने सभी डेरा आश्रमों पर सख्ती बरतना शुरु कर दिया। आश्रमों में बाबा समर्थकों के जमा होने के चलते पुलिस और सेना को आश्रम खाली करवाने को कहा है। सेना और पैरा मिलिट्री जवानों ने सच्चा सौदा डेरा के सिरसा स्थित मुख्यालय को घेर लिया है। यहां के सभी मार्गों को सील कर दिया है और सेना ने अपने कब्जे में ले लिया है।

सिरसा मुख्यालय में हजारों समर्थक बताए जाते हैं। वहां हथियार जमा होने और उपद्रवियों के मौजूद होने का अंदेशा है। मीडिया रिपोटर्स के मुताबिक, हरियाणा के 26 डेरा आश्रमों को सील कर दिया है। आश्रमों को खाली करवाया जा रहा है। तलाशी ली जा रही है। भारतीय सेना और पैरा मिलिट्री के आने से शनिवार को पंचकूला, सिरसा, मिनसां व दूसरे शहरों में शुक्रवार के मुकाबले शांति रही। हालांकि अभी भी तनाव है। कल के मुकाबले आज पुलिस और प्रशासन मुस्तैद दिखा और सख्ती भी दिखाई, जिसके चलते उपद्रवी सड़क पर नहीं दिखे और ना ही उपद्रव रहा। वहीं पंजाब, राजस्थान, यूपी, दिल्ली आदि राज्यों में भी हिंसा की कोई सूचना नहीं है। उधर, सेना के आला अफसर और मुख्य सचिव डीएस ढेसी ने कहा है कि सिरसा स्थित डेरा मुख्यालय की सेना ने घेराबंदी की है। सेना अभी आश्रम के अंदर नहीं गई है। आश्रम के बाहर मौजूद है और कानून व्यवस्था संभाले हुए है।

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम से जेड प्लस सुरक्षा भी हटी

चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख को यौन शोषण केस में दोषी ठहराए जाने के बाद उनकी जेड प्लस सुरक्षा हटा दी गयी है। डेरा प्रमुख को रोहतक की जेल में एक सामान्य कैदी की तरह रखा गया है। यह जानकारी हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने शनिवार को मीडिया को सम्बोधित करते हुए दी। 

उन्होंने बताया कि डेरा प्रमुख के खिलाफ आए फैसले के बाद भड़की हिंसा में 524 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यही नहीं, डेरा समर्थकों के पास से तीन राइफल तथा पिस्टल और कारतूस भी बरामद हुआ है। इसके साथ डीजीपी ने स्पष्ट किया कि सिरसा में डेरा मुख्यालय के अंदर सेना नहीं घुसी है। सेना ने डेरे के बाहर घेरा डाला है। अंदर मौजूद समर्थकों से बाहर निकलने की अपील की जा रही है।