सीबीआई ने विधायक सेंगर पर किया केस दर्ज, भाजपा ने पल्ला झाड़ा, किया पार्टी से बाहर

0
200
file photo
Spread the love
  • उन्नाव रेप पीड़िता दुर्घटना कांड: सेंगर समेत दस पर हत्या का मुकदमा
  • एफआईआर के बाद गुरुबख्शगंज इलाके में पहुंची सीबीआई टीम

लखनऊ,01 अगस्त 2019: देश में उन्नाव रेप पीड़िता के इन्साफ की लड़ाई लड़ रहे लोगों के दबाव में आज फिर नया मोड़ आया। सीबीआई ने उन्नाव रेप पीड़िता के सड़क दुर्घटना मामले में 25 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है, जिसमें भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत 10 लोगों को नामजद किया गया है। अन्य के खिलाफ हत्या के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया गया है। इधर मामले को तूल पकड़ता देख भाजपा ने भी विधायक से पल्ला झाड़ लिया है और आरोपित विधायक को पार्टी से बाहर कर दिया। उधर इस प्रकरण को लेकर बुधवार को भी कांग्रेस व सपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बुधवार को प्राथमिकी दर्ज करने के तत्काल बाद सीबीआई की लखनऊ इकाई के अधिकारियों का एक दल एसपी राघवेन्द्र वत्स के नेतृत्व में रायबरेली जिले के गुरबख्शगंज इलाके में दुर्घटना स्थल पर पहुंचा और जानकारी एकत्र की। टीम के साथ जिलाधिकारी नेहा शर्मा व एसपी सुनील कुमार सिंह भी मौके पर गये। सीबीआई दल ने रायबरेली में स्थानीय पुलिस थाने के अधिकारियों से भी मुलाकात की। सीबीआई ने सामान्य प्रक्रिया के अनुसार फिर से प्राथमिकी दर्ज करते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस से दुर्घटना मामले की जांच अपने हाथ में ले ली। सीबीआई टीम ने घटना में शामिल ट्रक चालक व क्लीनर से भी पूछताछ की।

वकील की हालत अब भी क्रिटिकल: विशेषज्ञों की निगरानी में हो रहा दोनों घायलों का इलाज

रिपोर्ट्स के मुताबिक सीबीआई टीम सेंगर के साथ ही पीड़िता की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों से भी पूछताछ करेगी।इस मामले में सबसे पहले पीड़िता के चाचा महेश सिंह की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। महेश सिंह रायबरेली जेल में बंद हैं। महेश सिंह ने आरोप लगाया था कि बांगरमऊ से विधायक सेंगर के भाजपा से निलंबन के बाद से उसके रिश्तेदार पीड़िता के परिवार पर लगातार दबाव बना रहे थे। वे सेंगर के खिलाफ मामला वापस नहीं लेने की स्थिति में पूरे परिवार की हत्या करने की कथित धमकियां दे रहे थे।।

केंद्र ने यूपी सरकार की सिफारिश पर मंगलवार को इस मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी। सेंगर पर आरोप है कि उसने युवती से 2017 में बलात्कार किया था। उस समय वह नाबालिग थी। उल्लेखनीय है कि रायबरेली में तेज गति से जा रहे एक ट्रक ने रविवार को एक कार को टक्कर मार दी थी, जिसमें भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली युवती, उसकी रिश्तेदार और वकील सवार थे। उधर इस प्रकरण को लेकर बुधवार को भी राजनीतिक दलों ने प्रदर्शन किया। 

रेप पीड़िता की हालत में मामूली सुधार: 

उन्नाव की रेप पीड़िता की जिंदगी के लिए दुआ कर रहे लोगों के लिए थोड़ी सी राहत भरी खबर है। केजीएमयू में वेंटीलेटर पर जिंदगी के लिए संघर्ष कर रही रेप पीड़िता में डाक्टरों को कुछ सुधार की किरण दिखी है परन्तु वकील की हालत में कोई सुधार अभी नहीं हुआ है। वेंटिलेटर पर उसकी हालत अभी भी क्रिटकल बनी हुई है। उन्नाव रेप पीड़िता की मंगलवार को केजीएमयू ट्रामा सेंटर के विशेषज्ञ डाक्टरों ने सीटी स्कैन कराने के लिए कुछ देर के लिए वेंटीलेटर को हटाया था।

एम्बुबैग के सहारे आक्सीजन पर रहने के बाद उसे फिर वेंटीलेटर पर भेज दिया गया था। डाक्टरों ने हेड इंजरी बताने के अलावा रिब्स तथा पैर में भी फ्रेक्चर बताया था। इसके अलावा इंटरनल इंजरी भी बतायी गयी थी। केजीएमयू प्रवक्ता डा. संदीप तिवारी ने बताया कि रेप पीड़िता वेंटीलेटर पर है, लेकिन आज विशेषज्ञों को कुछ सुधार की किरण दिखायी दी है, लेकिन अभी कुछ कहा नही जा सकता है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here