पत्नियों को छोड़ने वाले 45 एनआरआई की तरह नेहा के पति का भी पासपोर्ट हो रद्द : वंदना रॉय

0
125
  • नेहा के पिता ने कहा : शादी के चार दिन बाद चला गया कोलंबिया, अब बना रहा है बहाने
  • नेहा को न्‍याय दिलाकर ही दम लेगी महिला विकास मंच : वीणा मानवी

पटना, 05 मार्च 2019: भारत सरकार ने अपनी पत्‍नी को छोड़ने वाले 45 एनआरआई के पासपोर्ट को रद्द कर दिया है। एक ऐसा ही मामला पटना में भी देखने को मिला है, जब मीठापुर निवासी दिनेश चंद्र यादव की बेटी नेहा को उसके पति विशाल कुमार ने छोड़ दिया है। इस मामले को लेकर महिला विकास मंच ने आज पटना में प्रेस कांफ्रेंस कर नेहा को न्‍याय दिलाने की मांग की। महिला विकास मंच की संरक्षक वीणा मानवी ने कहा कि नेहा एक सीधी सादी महिला हैं, जिसकी शादी 2015 में हुई थी। मगर शादी के चार दिन बाद ही उसके पति नेहा को छोड़ कर कोलंबिया चले गए। और नेहा को छोड़ दिया।

इसके बाद नेहा और उसके परिजन मुख्‍यमंत्री, राज्‍यपाल और महिला आयोग में जाकर न्‍याय की गुहार लगाई, मगर नतीजा सिफर रहा। इसके बाद वे महिला विकास मंच के  पास आये, तो हमने मामले की गंभीरता को देखते हुए नेहा को न्‍याय दिलाने की ठानी। और इस मामले में महिला विकास मंच ने पटना के सबसे बड़े फौजदारी मामलों के अधिवक्‍ता जनार्दन राय को सौंपी। इस केस की सुनवाई 7 मार्च को होनी है। इस मामले को महिला विकास मंच की लीगल एडवाइजर वंदना राय खुद देख रही हैं।

मीडिया प्रभारी अरुणिमा ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि जिस तरह से महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने अपनी पत्नियों को छोडने वाले 45 एनआरआई के पासपोर्ट रद्द किये हैं, उसी तरह विशाल कुमार का पासपोर्ट भी रद्द किया जाय। साथ ही नेहा के परिवार वालों को न्‍याय मिले, इसके लिए महिला विकास मंच कृत संकल्पित है। विशाल कुमार अशोक नगर कंकरबाग का रहने वाला है। लेकिन वे पिछले चार सालों से नेहाकी अनदेखी कर रहा है। प्रेस कांफ्रेंस में नेहा के पिता भी मौजूद रहे, जिन्‍होंने पूरे घटनाक्रम को विस्‍तार से बताया।

वहीं, संवाददाता सम्‍मेलन में महिला विकास मंच की संरक्षक वीणा मानवी ने मंच द्वारा किये गए कार्यों का एक साल का ब्‍यौरा सौंपा और आगे की रणनीति पर भी चर्चा की। उन्‍होंने बताया कि बीते साल में महिला विकास मंच ने चर्चित छपरा केस समेत सैकड़ों महिलाओं को के केस को सॉल्‍व किया। साथ ही पुरूषों के लिए भी महिला विकास मंच मददगार रहीं। यही वजह है कि महिला विकास मंच के जरिये महिला और पुरूष कदम से कदम मिलकार काम कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here