सांपों से बचने के लिए विभाग कराएगा ‘सर्प शांति यज्ञ’!

0
684
file photo

हैदराबाद, 27 अगस्त 2018: सांप के डसने के बाद लोग रुढ़ियों में फंसकर इलाज के बजाए तंत्र-मंत्र आदि में जुट जाते हैं। पूजा-हवन आदि का भी उम्मीद में सहारा लेते हैं कि सांप लोगों से अब दूर रहने वाले है। दरअसल, ऐसा ही मामला सामने आया है आंध्रप्रदेश के दिविसीमा से, जहां पर तकरीबन 100 लोग सांप के डसने की वजह से अस्पताल में भर्ती हैं जबकि दो लोगों की मौत हो चुकी है।

हैरानी वाली बात तो यह है कि विभाग की ओर से लोगों को ऐंटी वेनम मुहैया कराने एवं सांप के डसने के बाद तुरंत क्या करना चाहिए आदि जरूरी बातें बताने की बजाए यज्ञ का आयोजन कराया जा रहा है। आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले में स्थित दिविसीमा गांव में सांप द्वारा डसने की वजह से दो लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 100 ग्रामीण अस्पताल में भर्ती हैं।

इन तमाम घटनाओं को देखते हुए विभाग की ओर से 29 अगस्त को मोपिदेवी स्थित श्री सुब्रह्मण्येश्वरा स्वामी मंदिर में ‘सर्प शांति यज्ञ’ का आयोजन कराया जा रहा है। कृष्णा जिले के डीएम और मैजिस्ट्रेट बी. लक्ष्मीकांतम ने कहा,स्थानीय लोगों के साथ ही एंडॉवमेंट विभाग सर्प यज्ञ का आयोजन कर रहा है। डीएम ने यह भी कहा,अवनीगड्डा में एक शख्स की मौत हुई है जबकि एक अन्य शख्स ने गन्नवरम में सांप के डसने की वजह से दम तोड़ दिया।

जुलाई महीने तक लगभग 100 लोगों को सांप द्वारा डसने की घटनाएं सामने आई हैं। विभिन्न कदमों के चलते अब इन मामलों में कमी आ रही है। एंडॉवमेंट विभाग के असिस्टेंट कमिश्नर और श्री सुब्रह्मण्येश्वरा स्वामी मंदिर के एग्जिक्यूटिव ऑफिसर एम शारदा ने बताया, ‘सरकार द्वारा स्पॉन्सर्ड यज्ञ कम से कम 15 पुजारियों द्वारा कराया जाएगा। इस दौरान सर्प सूक्तम मंत्रों का जाप किया जाएगा।’ इसके इतर जिला प्रशासन की ओर से प्रत्येक गांव में सांप पकड़नेवाले दो लोगों को लगाया गया और दो दिनों में उन्होंने 6 सांप पकड़े।

Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here