नववर्ष 2020 को लेकर श्रीकृष्ण की मथुरा नगरी हो रही हैं श्रद्धालुओं से गुलजार

0
211

यमुना के तीर्थघाटों से लेकर श्रीकृष्ण जन्मभूमि, द्वारिकाधीश, बिहारीजी, बरसाना, राधाकुंड, गोकुल, बलदेव, नंदगांव में श्रद्धालुओं का रेला

मथुरा, 30 दिसम्बर 2019: नूतन नववर्ष 2020 को मनाने के लिए इन दिनों कान्हा की नगरी में श्रद्धालुओं का आना निरंतर जारी है, जिसके चलते मथुरा वृंदावन गोवर्धन बलदेव के गेस्ट हाउस, होटल बुक है। रोजाना भारी संख्या में श्रद्धालु श्रीकृष्ण जन्मस्थान, बांकेबिहारी, गिरिराज महाराज गोवर्धन तथा बरसाना, राधाकुंड, गोकुल, बलदेव, नंदगांव में श्रद्धालुओं भारी संख्या में पहुंच रहे है। पूरी मथुरा नगरी राधे-राधे के उद्घोषों से गुंजेमान हो रही है। इस बार में नया साल श्रीकृष्ण की क्रीड़ास्थली में मनाने के लिए लगभग 10 से 15 लाख श्रद्धालु यहां ठाकुरजी का आशीर्वाद लेने पहुंचेंगे है।

गौरतलब हो कि भगवान श्रीकृष्ण की नगरी देश- दुनिया के श्रद्धालुओं के लिए आस्था का केंद्र है, श्रद्धालु नववर्ष की शुरूआत योगीराज की शरण में करना चाहते हैं। आस्था की नगरी वर्षभर राधे-कृष्णा के जयघोष से गुंजायमान रहती है। नववर्ष जैसे मौके पर हर तरफ श्रद्धा की बयार बहती है। नववर्ष मनाने के लिए श्रद्धालुओं का आवागमन आरंभ हो गया है।

नववर्ष पर ब्रज में सोमवार से बुधवार तक आस्था की अविरल धारा बहेगी। श्रद्धालु गोवर्धन की परिक्रमा लगाएंगे। श्रीकृष्ण जन्मभूमि, द्वारिकाधीश, बिहारीजी, बरसाना, राधाकुंड, गोकुल, बलदेव, नंदगांव में श्रद्धालुओं का रेला उमड़ेगा। मंदिर भक्तों से गुलजार रहेंगे। अनुमान है कि नववर्ष पर करीब 10 से 15 लाख श्रद्धालु ठाकुरजी का आशीर्वाद लेने आने की उम्मीद है। मंगलवार की रात से ही श्रद्धालु गोवर्धन की परिक्रमा भी लगाएंगे। यमुनाघाट पर पूजन करेंगे। ब्रज में हर ओर श्रद्धा की मिठास घुल जाएगी। मंदिरों में भी आस्था झूमेगी और भगवान श्रीकृष्ण-राधे के जयघोष श्रद्धा की मिठास घोल देंगे। जिला पर्यटन अधिकारी डीके शर्मा ने बताया कि नववर्ष में करीब दस लाख से ज्यादा श्रद्धालु आने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here