इसलिए भगवान खुद बिक जाते हैं, बाजारों में

0
626

ग़रीब के बच्चे भी खुशियां मना सके, *त्यौहारों में,
इसलिए भगवान खुद बिक जाते हैं, बाजारों में…!!

  • शोभना गुर्जर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here