टाइगर ट्रैक्टर पर और वनकर्मी पिंजरे के अंदर, बड़ी मुश्किल से बची जान!

0
987

बेहद ही सनसनी खेज तरीके से टाइगर के द्वारा किये गए हमले में बाल -बाल बचे रेस्क्यू करने गए वनकर्मी जब टाइगर से पार न पा सके तो खुद ही टाइगर के पकड़ने वाले पिंजरे में अपने आपको बंदकर जान बचायी। इस दौरान टैक्टर पर बैठे खूंखार टाइगर को एक लम्बी लकड़ी के सहारे भगाने की कोशिश भी की गयी लेकिन टाइगर ने लकड़ी को ही पंजा मारकर तोड़ डाला और आस की झाड़ियों में छिप गया।

बताया जाता है कि पीलीभीत टाइगर रिजर्व, यूपी के माला रेंज से सटे जरी गांव में टाइगर ने तीन ग्रामीणों को घायल कर दिया था इस घटना की सूचना के आधार पर वन विभाग के अधिकारियों ने तत्काल मौके पर पहुँच कर रेस्क्यू आपरेशन चलाया। मौके पर ही टाइगर भी मिल गया फिर जो हुआ उससे वनकर्मियों के हाथपांव फूल गए। टाइगर ने उनपर हमला कर दिया वनकर्मी तत्त्काल अपने बचाव में शेर पकड़ने वाले पिंजरे में घुस गए और टाइगर उन पर हमला करने के लिए टैक्टर पर ही बैठ गया जब एक वनकर्मी ने उसे भगाने के लिए एक बांस की लम्बी लकड़ी से उसपर हमला किया तो टाइगर ने अपना खतरनाक पंजा मारकर उसे तोड़ दिया और जंगल की झाड़ियों में भाग कर छिप गया। इस बारे में बताया जाता है कि सरकार की एक टीम का हिस्सा जिसने इस बाघ को पकड़ने की कोशिश की, उस पर ग्रामीणों द्वारा पथराव भी किया गया। जो कि यह मुख्य रूप से राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण के एसओपी के खिलाफ है।

बता दें कि पीलीभीत के गजरौला इलाके में इस बाघ का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमे कुछ वनकर्मी एक टाइगर के बीच घिरे हुए थे। बताया जाता है कि शेर द्वारा ग्रामीणों को घायल करने कि सूचना पर वनकर्मी मौके पर पहुंचे थे वह उस टाइगर को ट्रैंकुलाइज करना चाहते थे। लेकिन ऐसा नहीं हो पाया और बाघ वापस जंगल में चला गया। जिसे एक पूर्ण ऑपरेशन बताया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here