मजबूत आरक्षण बिल के लिए होगा दिल्ली में बड़ा आन्दोलन: संघर्ष समिति

0
455
  • आरक्षण समर्थकों ने खायी कसम: पदोन्नति में आरक्षण बिल पास कराने व एससी/एसटी एक्ट पर बनवाएंगे मजबूत कानून
  • आरक्षण समर्थकों का केन्द्र की मोदी सरकार पर करारा हमला जमकर हुई नारेबाजी

लखनऊ, 06 अगस्त 2018: पदोन्नति में आरक्षण बिल लोकसभा से पास कराने व एससी/एसटी एक्ट को अविलम्ब लोकसभा व राज्य सभा से पारित कराकर मजबूत कानून बनाने के लिये आज आरक्षण समर्थकों ने कसम खाई क़ि जब तक बिल नहीं होगा पास तब तक मरते दम तक आन्दोलन जारी रहेगा। आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति,उप्र ने कहा क़ि इसके लिए जल्दी ही दिल्ली में एक बड़ा आन्दोलन होगा।

एक प्रेस नोट के मध्य से मिली जानकारी के अनुसार आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति,उप्र के तत्वाधान में आज प्रदेश के सभी सरकारी विभागों के संयोजकों को सुबह 7 बजे सामाजिक परिवर्तन प्रतीक स्थल, गोमती नगर, लखनऊ में बाबा साहब डा भीमराव अम्बेडकर व माता रमाबाई की प्रतिमा के सामने संघर्ष समिति के संयोजक अवधेश कुमार वर्मा ने शपथ दिलायी।

आरक्षण समर्थकों द्वारा शपथ लेने के बाद लम्बे समय से पदोन्नति में आरक्षण बिल पारित न कराने व उप्र में आरक्षण अधिनियम 1994 की धारा-3(7) को बहाल न करने के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गयी और सर्वसम्मति से यह ऐलान किया गया कि अब इस आन्दोलन को राष्ट्रव्यापी आन्दोलन बनाने के लिये एक साझा मंच तैयार कर सामूहिक रूप से सभी प्रदेशों के आरक्षण समर्थक कार्मिक लाखों की संख्या में दिल्ली में डेरा डालेंगे।

आरक्षण बचाओ व एससी/एसटी एक्ट को मजबूती देने के बाद आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति,उप्र के संयोजकों अवधेश कुमार वर्मा, केबी राम, डा रामशब्द जैसवारा आरपी केन, अनिल कुमार, अजय कुमार, पीएम प्रभाकर, अनिल कुमार सागर, श्याम लाल, अन्जनी कुमार, लेखराम, रीना रजक, बीना दयाल, अंजली गौतम, अनीता, सुधा, रेनू, प्रेम चन्द्र, राधेश्याम, जितेन्द्र कुमार, महेन्द्र सिंह, अशोक सोनकर, राजेश पासवान, दिनेश कुमार, राम चरन, जयचन्द्र, अरविन्द फर्सोवाल ने कहा कि बहुत जल्द ही सुरक्षित सीट से जीतकर आये सांसदों के क्षेत्र में आरक्षण समर्थकों द्वारा आरक्षण बचाओ चौपाल लगायी जायेगी, जिसके माध्यम से समाज को जागरूक करते हुए यह बताया जायेगा कि पिछले 4 साल से ज्यादा व्यतीत होने को है। बाबा साहब द्वारा बनायी गयी संवैधानिक व्यवस्था के तहत प्राविधानित पदोन्नति में आरक्षण बिल लम्बे समय से लोकसभा में लम्बित है, लेकिन समाज के पहरेदारों ने कुछ नहीं किया।

Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here