‘संविधान दिवस‘ पर आरक्षण बचाने को आर-पार की लड़ाई का होगा ऐलान

0
331
file photo

गोमती नगर सामाजिक परिवर्तन प्रतीक स्थल पर आरक्षण समर्थकों को दिलायी जायेगी प्रातः 7 बजे शपथ

लखनऊ, 24 नवंबर 2018: 26 नवम्बर ‘‘संविधान दिवस‘‘ को जोर शोर से मनाने के लिये आरक्षण समर्थक पूरे प्रदेश में तैयारियों में जुटे हैं। कहीं संकल्प सभा हो रही है, कहीं संवैधानिक दौड़, तो कहीं संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है। आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति,उप्र ने कहा कि 26 नवम्बर को पूरे प्रदेश के सभी जिलों में 8 लाख आरक्षण समर्थक कार्मिक संविधान को मजबूत करने व आरक्षण को बचाने हेतु प्रातः 7 बजे संकल्प लेंगे।

संघर्ष समिति प्रान्तीय संयोजक मण्डल द्वारा सामाजिक परिवर्तन प्रतीक स्थल गोमती नगर में प्रातः 7 बजे बाबा साहब व माता रमाबाई की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर संकल्प लेते हुए आरक्षण को बचाने का आन्दोलन और तेज करेंगे।

आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति,उप्र के संयोजकों सर्वश्री अवधेश कुमार वर्मा, केबी राम, आरपी केन, अनिल कुमार, अजय कुमार, श्याम लाल, अन्जनी कुमार, एसपी सिंह, बनी सिंह प्रेम चन्द्र, अशोक सोनकर, सुनील कनौजिया ने कहा कि एक तरफ भाजपा के कुछ नेता दलितों का सम्मेलन कर उनके हितों की बात कर रहे हैं और पदोन्नति में आरक्षण के मुद्दे पर चुप्पी साधे हैं।

संघर्ष समिति के नेताओं द्वारा प्रदेश के सभी विभागों की आज समीक्षा की गयी, लगभग सभी विभागों में उच्च पदों पर अनुसूचित जाति/जनजाति प्रतिनिधित्व लगभग नगण्य हैं। जिस प्रकार से पिछले लगभग 5 वर्षों से लोकसभा में पदोन्नति का बिल लम्बित रखकर पूरे देश के दलित कार्मिकों का उत्पीड़न कराया जा रहा है, उससे यह सिद्ध हो गया है कि केन्द्र की मोदी सरकार जानबूझकर दलितों के संवैधानिक मुद्दे पर चुपचाप तमाशा देख रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here