Home उत्तर प्रदेश पल्स पोलियो दिवस 11 मार्च को

पल्स पोलियो दिवस 11 मार्च को

0
1105

सघन पल्स पोलियो अभियान को सफल बनाये-जिलाधिकारी

लखनऊ-07 मार्च 2017,  जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा की अध्यक्षता में आगामी 11 मार्च 2018 को आयोजित होने वाले पल्स पोलियो की तैयारी सम्बन्धी बैठक कलेक्टेªेट स्थित डा. एपीजे अब्दुल कलाम सभाकक्ष में सम्पन्न हुई।
जिलाधिकारी ने यह भी कहा है कि पल्स पोलियों के सम्बन्ध में बुलावा टोलियों द्वारा लोगों में जागरूकता लायी जाये। जिलाधिकारी ने सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों से कहा है कि अस्पतालों में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखते हुए साफ सफाई करायी जाये।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया है कि आगंनवाडी/एएनएम/आशा /पल्स पोलियो कार्यक्रम व प्रशिक्षण में शत-प्रतिशत उपस्थित सुनिश्चित करायी जाये तथा अनुपस्थित रहने पर कठोर कार्यवाही की जाये। उन्होने यह भी कहा कि ग्रामीण क्षेत्र की एएनएम को नगरीय क्षेत्र में जहां वर्कर की कमी है वहां पर लगाया जाये। उन्होने कहा कि बूथ दिवस पर ही शत-प्रतिशत बच्चों को  पल्स पालियो की दवा पिलाई जाये।
बैठक में जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों से कहा है कि आगामी 11 मार्च 2018 को सघन पल्स पोलियो अभियान के अन्तर्गत सभी तैयारियाॅं  समय से पूर्ण कर ली जायें इसमे किसी प्रकार की ढिलाई नही की जायें। उन्होने सभी सम्बन्धित चिकित्सा अधिकारियों से कहा है जो भी आवश्यक सामग्री है उसको समय से प्राप्त कर लें, सघन पल्स पोलियो अभियान को सफलता पूर्वक  संचालित किया जाये।
जिलाधिकारी ने कहा कि बूथ प्रारम्भ होने का समय प्रातः 8 बजे से सायं 4 बजे तक रहेगा तथा घर-घर कार्यक्रम प्रातः 8 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक रहेगा। उन्होने कहा कि बूथ दिवस पर समस्त प्राथमिक व अपर प्राथमिक स्कूल  प्रातः 8 बजे से सायं 4 बजे तक खुले रहने के  तथा मिड-मील वितरित करने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिया है,।  उन्होने बूथ दिवस के दिन बूथ के आस पास साफ सफाई तथा चूने का छिडकाव नगर निगम /नगर पंचायत  द्वारा कराये जाने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों  को निर्देश दिये है । उन्होने बूथ दिवस के दिन आंगनबाडी केन्द्र खुलने रहने तथा पुष्टाहार वितरण कराये जाने के लिए निर्देशित किया है। जिलाधिकारी ने कहा कि हाई रिस्क क्षेत्र ( नोमैड, निर्माणाधीन स्थल स्थाई व अस्थाई स्लम तथा ईट भट्ठों पर विशेष घ्यान) आवश्यकतानुसार ट्राजिट टीम को मोबाइल टीम में परिर्वतन कर एचआरजी साईडों को कवर कराया जाये।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here