1 जनवरी 2018 से घर बैठे आधार से लिंक हो जाएगा मोबाइल नंबर

0
459

मोबाइल नंबर आधार के डाटाबेस में मौजूद हो

नई दिल्ली, 12 दिसम्बर। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार सिम को आधार नंबर से लिंक करना जरूरी कर दिया गया है। इसके लिए 6 फरवरी 2018 तक सभी मोबाइल यूजर्स को अपने नंबर को आधार से लिंक कराना है। ऐसा नहीं कराने पर मोबाइल नंबर बंद हो जाएगा। कुछ लोग अपने बिजी शेड्यूल की वजह से आधार लिंक कराने के लिए टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइड के पास नहीं जा पाते हैं। इन ग्राहकों के लिए एक जनवरी 2018 से आप घर बैठे यह काम आसानी से कर सकते है।

फिलहाल तो कस्टमर को इसके लिए टेलीफोन सर्विस प्रोवाइडर के सेंटर पर जाना ही पड़ता है। अपने मोबाइल नंबर के साथ अपने आधार विवरणों को जोड़ने के लिए,ग्राहकों को अपने मोबाइल नंबर से इंटरैक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम (आईवीआरएस) को कॉल करना होगा। इसके बाद मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करने की अनुमति देनी होगी। फिर यूजर को एक ओटीपी भेजा जाएगा,जो एक बार टाइप की गई प्रक्रिया पूरी कर लेंगे। उसके बाद ग्राहक को सूचित किया जाएगा कि उनका नंबर आधार के साथ लिंक कर दिया गया है।

हालांकि,उपभोक्ता इस सुविधा का लाभ केवल तभी उठा सकते हैं जब उनका मोबाइल नंबर आधार डेटाबेस में पहले से ही मौजूद हो। यूआईडीएआई के सीईओ अजय भूषण पांडे ने बताया कि इससे लोगों को दूरसंचार आउटलेट पर पहुंचने के बिना आधार के साथ अपना मोबाइल नंबर सत्यापित करने में मदद मिलेगी। मगर,यह तभी हो पाएगा,जब उनका मोबाइल नंबर पहले ही आधार डेटाबेस में जोड़ लिया गया हो। टेलीफोन सर्विस प्रोवाइडर्स से कहा गया है कि सभी वॉइस चैनल पर सुरक्षा के पूरे इंतजाम रखें। यह पूरी प्रक्रिया ऑटोमैटिक होना चाहिए। सुरक्षा बिल्कुल बैंकों के आईवीआर की तरह ही होनी चाहिए। यूआईडीएआई का कहना है कि टेलीफोन सर्विस प्रोवाइडर्स ने सुनिश्चित किया है कि आधार नबर को ऑपरेटर्स और कस्टमर रिलेशनशिप एग्जीक्यूटिव्स एक्सेस नहीं कर पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here