‘जली हुई हार्ड डिस्क’ से निकलेगा बाबा का रहस्य, 45 लोगों को नोटिस

0

बताया जा रहा है कि डेरे में कई जगह फटे या जले हुए डॉक्यूमेंट्स मिले हैं। कहा तो यह भी जा रहा है कि इस हार्ड डिस्क को नष्ट करने की कोशिश की गई थी

चंडीगढ़ 6 अक्टूबर। बाबा राम रहीम का कंप्यूटर डेटा यानि हार्ड डिस्क जल तो जरूर गई गई लेकिन आईटी एक्सपर्ट्स उनके काले कारनामे को हार्ड डिस्क से निकालकर अहम् सबूत के तौर पर पुलिस को सौप दिया है डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम से जुड़ा यह अहम सबूत हरियाणा पुलिस के हाथ लगा है। यह राम रहीम और उसकी मुंह बोली बेटी हनीप्रीत की मुश्किलें बढ़ा सकता है। दरअसल, पुलिस को राम रहीम के कम्प्यूटर की हार्ड डिस्क मिली है।

जांच में कई चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं। पुलिस को चार ऐसे डेरा समर्थकों का पता है, जिन्हें नंपुसक बनाया गया हैं। इनमें पंचकूला दंगों का मास्टरमाइंड भी शामिल है। बताया जा रहा है कि डेरे में कई जगह फटे या जले हुए डॉक्यूमेंट्स मिले हैं। कहा तो यह भी जा रहा है कि इस हार्ड डिस्क को नष्ट करने की कोशिश की गई थी।

सूत्रों का दावा है कि पुलिस ने हार्ड डिस्क को रिकवर कर लिया है और इससे डाटा निकालने में भी सफलता हासिल कर ली है। इस हार्ड डिस्क में ये पूरी डिटेल है कि डेरा सच्चा सौदा की ओर से किसे कितनी रकम दी गई और कितने रुपए कहां पर इन्वेस्ट किए गए। इससे पता लगाया जा सकता है कि डेरा को कौन-कौन से लोग फंडिग कर रहे थे। वहीं पंचकूला पुलिस ने 25 अगस्त को हिंसा फैलाने के आरोप पर डेरा सच्चा सौदा प्रबंधन के 45 लोगों को नोटिस भेजा है।

गौरतलब है कि गुरमीत राम रहीम की करीबी हनीप्रीत को हाल ही में पुलिस ने गिरफ्तार किया है जिसे अदालत ने 6 दिन की रिमांड पर भेज दिया है। गिरफ्तार होने के एक दिन पहले हनीप्रीत ने टेलीविजन चैनलों पर एकाएक प्रकट होकर सफाई दी थी कि उनके और राम रहीम के रिश्ते को लेकर गलत बातें बताई जा रही हैं। उनका रिश्ता बेटी और पिता जैसा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here