फिल्म की स्क्रिप्ट ही ऐसी थी जिसे मना करना मुश्किल था: जॉन अब्राहम

0
432

लॉक डाउन के बाद फिर से शूट शुरू करने वाली बहुत कम फिल्मों में से एक अर्जुन कपूर- रकुल प्रीत अभिनीत अनटाइटल्ड फिल्म की 10-दिवसीय शूटिंग सोमवार को दोबारा शुरू हुई । फिल्म का यह शेड्यूल जॉन अब्राहम और अदिति राव हैदरी के साथ शुरू किया गया हैं जो फिल्म में अर्जुन के दादा-दादी का किरदार निभा रहे हैं। फिल्म का ट्रैक भारत की आजादी के समय के आसपास 1947 का बनाया गया है।

अदिति, जॉन की प्रेमिका और नीना के युवा किरदार को निभा रही है, वह फिल्म में अर्जुन की दादी की भूमिका निभा रही है। जॉन और अदिति इस इनडोर शेड्यूल के दौरान एक सप्ताह के लिए अपने हिस्से की शूटिंग करेंगे। फिर वृस्तित आउटडोर शूट के लिए वे अक्टूबर में टीम के साथ एक बार फिर से मिलेंगे।

जॉन कोरोना वायरस के कारण लगे फोर्स्ड लॉकडाउन में पांच महीने तक घर पर रहने के बाद काम पर वापस आने के लिए उत्साहित है, लेकिन इस बात की भी सावधानी बरती जा रही है कि हम अभी भी कोरोना काल में ही जी रहे है। उन्होंने कहा “टीम सभी मंत्रालयों और संबंधित अधिकारियों द्वारा जारी किए गए सभी एसओपी का पालन करते हुए, अत्यधिक सावधानी बरत रही है। एक निर्माता के रूप में, हमारे लिए हमारे कलाकारों और क्रू मेंबर का ख्याल रखना महत्वपूर्ण है,” निखिल आडवाणी और भूषण कुमार के साथ फिल्म का निर्माण कर रहे जॉन कहते हैं, “जब मैंने स्क्रिप्ट सुनी, तो मुझे उसी वक़्त अहसास हो गया था कि यह एक विशेष किरदार होगा, और जब काशवी ने मुझे इसे निभाने का सुझाव दिया, तो मना करना मुश्किल था।”

अदिति जोर देकर कहती हैं कि यह भूमिका उनके लिए भी काफी खास है, क्योंकि यह एक प्रेम कहानी है, जो पीढ़ी दर पीढ़ी चलती है। “जॉन और मैं 1946-47 के एक कपल की भूमिका निभाते हैं, जिसकी प्रेम कहानी अधूरी और दर्द भरी रहती है, जब तक कि अर्जुन के किरदार को इन्हे पास लाने की आवश्यकता महसूस नहीं होती। इस तरह की फिल्मों को आज के दौर में शायद ही कभी बनाया गया हो, इसलिए मुझे टीम का हिस्सा बनने की जल्दी थी।”

निखिल ने शेयर करते हुए कहा कि यह तीन पीढ़ी तक चलने वाली एक प्रेम कहानी है, जो 1947 में शुरू हुई और 2020 तक लगातार चलती रही। “वर्तमान समय में अर्जुन और रकुल के किरदारों के बीच समानता है, लेकिन 1947 में विभाजन के दौरान जॉन और अदिति के किरदारों के बीच दूरिया आ गई। उन्होंने पहली बार एक सरदार की भूमिका निभाई।

भूषण कुमार ने कहा कि जॉन पहली बार अपने सिख अवतार में शक्तिशाली और प्रभावशाली लग रहे है और उनकी केमिस्ट्री स्क्रीन को आकर्षित बना देगी। “यह दो अलग-अलग युगों में प्रेम, समर्पण, संस्कृति और परिवार की कहानी है। जॉन और अदिति की प्रेम कहानी स्कूल से चली आ रही है, जबकि अर्जुन और रकुल मॉडर्न रिलेशन के बारे में बताते हैं।

निखिल ने यह कहकर अपनी बातों का अंत किया कि यह फिल्म सोशल मीडिया पर समय बिता रही पीढ़ी को प्यार के बारे में बताएगी: “इस कहानी का आधार एक महिला के माध्यम से सच्चे प्यार का एहसास कराना है जो 70 वर्षों से अपने प्यार से मिलने के लिए तरस रही है।”

काशवी नायर के निर्देशन में बनी अब तक अनटाइटल्ड फिल्म भूषण कुमार, दिव्या खोसला कुमार, कृष्ण कुमार (टी-सीरीज़) के साथ-साथ मोनिशा आडवाणी, मधु भोजवानी, निखिल आडवाणी (एमे एंटरटेनमेंट) और जॉन अब्राहम (जेए एंटरटेनमेंट) द्वारा निर्मित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here