धारा 370 के हटने की बौखलाहट से पाकिस्तान ने बंद की समझौता एक्सप्रेस

0
89

कहा : युद्ध थोपा तो तो हम भी पीछे नहीं हटेंगे

नई दिल्ली, 09 अगस्त 2019: कश्मीर में धारा 370 के हटने से बौखलाए पाकिस्तान ने अब अपनी असली हरकतों पर उतर आया है और उसने अपनी सुरक्षा चिंताओं का हवाला देते हुए बृहस्पतिवार को वाघा सीमा पर समझौता एक्सप्रेस ट्रेन रोक दी। इसके बाद भारतीय रेलवे ने भारतीय चालक दल के साथ ट्रेन अटारी के लिए रवाना किया।

उल्लेखनीय है कि भारत के साथ पाकिस्तान के राजनयिक संबंधों का दर्जा घटाने की घोषणा के एक दिन बाद पाक के रेल मंत्री शेख राशिद अहमद ने इस्लामाबाद में मीडिया को बताया कि उनके देश ने समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा बंद कर दी है। पाक रेल मंत्री ने चेताया, ‘आगामी तीन-चार महीने बहुत महत्वपूर्ण हैं। युद्ध हो सकता है, लेकिन हम युद्ध नहीं चाहते हैं। अगर हम पर युद्ध थोपा गया तो यह अंतिम युद्ध होगा।

बता दें कि भारत की यात्रा करने के लिए यात्री लाहौर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार कर रहे थे। उसी बीच मंत्री ने ट्रेन सेवा निलंबित किए जाने का ऐलान किया। दूसरी ओर यहां रेलवे अधिकारियों ने बताया कि ट्रेन निलंबित नहीं की गई है। इसके बाद भारतीय रेलवे ने यात्रियों की चिंता की और उन्हें भारत लाने के लिए प्रयास शुरू कर दिए।

Image result for samjhauta express

22 जुलाई 1976 को शुरू की गई थी सेवा:

बता दें कि शिमला समझौते के तहत इस ट्रेन सेवा की शुरुआत 22 जुलाई 1976 को की गई थी। पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद दोनों देशों के बीच उत्पन्न तनाव की पृष्ठभूमि में पाकिस्तानी अधिकारियों ने इस साल 28 फरवरी को कुछ समय के लिए इस ट्रेन सेवा को निलंबित कर दिया था।

बृहस्पतिवार को समझौता एक्सप्रेस लाहौर से अटारी नहीं पहुंची, बल्कि पाकिस्तान में वाघा में ही रुकी रही। समझौता एक्सप्रेस में छह शयनयान डिब्बे और एक एसी 3-टियर का डिब्बा है।


इस संबंध में उत्तर रेलवे के प्रवक्ता दीपक कुमार ने मीडिया से बातचीत में कहा कि ट्रेन को निलंबित नहीं किया गया है और यह चलेगी। पाकिस्तान के अधिकारियों ने समझौता एक्सप्रेस के चालक दल और गार्ड की सुरक्षा के लिए कुछ चिंता जाहिर की थी। हमने उनसे कहा कि इस तरफ हालात सामान्य है। उन्होंने बताया कि हमारे चालक दल और गार्ड के साथ हमारा इंजन ट्रेन को अटारी ले आया है।

श्री कुमार ने बताया कि भारत की तरफ से पाकिस्तान जाने के लिए कुल 70 यात्री इंतजार कर रहे थे। ट्रेन के परिचालन के बारे में विस्तार से बताते हुए कुमार ने कहा कि लाहौर और दिल्ली से समझौता एक्सप्रेस अटारी पहुंचती है। लाहौर से दिल्ली आने वाले यात्री अटारी में भारतीय ट्रेन में सवार होते हैं। इसी तरह लाहौर जाने वाले यात्री पाकिस्तान की ट्रेन में सवार होते हैं। पाकिस्तानी ट्रेन फिर वापस वाघा जाती है और वहां से लाहौर के लिए रवाना होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here