नोटबंदी व जीएसटी के बाद आत्महत्या करने जैसी स्थिति उत्पन्न हो चुकी है: रोहित अग्रवाल

0
550
रोहित अग्रवाल

लखनऊ 31 अक्टूबर। राष्ट्रीय लोकदल व्यापार प्रकोष्ठ मध्य उप्र के अध्यक्ष रोहित अग्रवाल ने आज भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष्य अमित शाह के बेटे जय अमित शाह को खुला पत्र लिखा। जिसमें उन्होंने कहा कि आपका व्यापार तो बहुत फल फूल रहा है और आप ने 16000 हज़ार गुना लाभ भी अपने व्यापार में किया है जो कि साधारण व्यापारियों की क्षमता से परे हैं। उन्होंने कहा कि मुझसे काफी छोटे व मध्यम व्यापारी जुड़े हुये हैं जिनके व्यापार में 16 गुना लाभ करना भी उनकी सोच से परे है। उप्र में व्यापार करीब करीब खत्म सा हो गया है व व्यापारी परेशान है। उन्होंने कुछ प्रमुख उदाहरण देते हुए भी कहा कि-

  • फिरोजाबाद चूडियों के लिए बड़ा प्रसिद्व है लेकिन व्यापारियों का व्यापार बंदी के कगार पर है।
  • अलीगढ़ तालो के व्यापार के लिए प्रसिद्व है लेकिन व्यापारियों के प्रतिष्ठानों पर ताले लगते चले जा रहे हैं।
  • भदोही कालीन के निर्यात के लिए पूरे देश में प्रसिद्व है परन्तु उनके व्यापार भी बंदी के कगार पर हैं।
  • मुरादाबाद बर्तनों के व्यापार के लिए बड़ा प्रसिद्व है वहां भी व्यापारियों की हालत बद से बदतर है।

उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर प्रदेश का व्यापारी बहुत ही दुखी है व नोटबंदी व जीएसटी के बाद आत्महत्या करने जैसी स्थिति उत्पन्न हो चुकी है जैसा कि आपको विदित है कि वर्तमान समय में त्योहारों का मौसम होने के बावजूद भी व्यापार की स्थिति बद से बदतर हो चली जा रही है और टर्नओवर गिरता चला रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रदेष एवं देष के छोटे और मध्यम व्यापारियों की दुर्दषा को देखते हुये आप द्वारा अपने व्यापार में किये गये टर्नओवर के दौरान अपनायी गयी नीतियों/टेक्नाॅजी के माध्यम से सेमिनार आयोजित करते हुये हम मध्यम एवं छोटे व्यापारियों को भी लाभान्वित करेंगे।

उन्होंने पत्र में कहा कि आषा ही नहीं अपितु पूर्ण विष्वास है कि हम व्यापारियों के दर्द को समझते हुये अपने बहुमूल्य समय में से कुछ समय निकालकर सेमिनार के माध्यम से छोटे एवं मध्यम व्यापारियों को मार्गदर्षन करेंगे। प्रत्याशी शराब बन्दी संघर्ष समिति के उपाध्यक्ष है। तथा शराब बन्दी संघर्ष समिति का पूर्ण समर्थन प्राप्त है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here