ट्राइकोडर्मा, मानव जाति के लिए प्रकृति का एक उपहार

0
62
  • काउंसिल ऑफ़ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च (सीएसआईआर) का 77वां स्थापना दिवस आज सीएसआईआर – केन्द्रीय औषधीय एवं सगंध पौधा संस्थान (सीमैप), लखनऊ में मनाया गया
  • सीएसआईआर-सीमैप के चार अनुसंधान केंद्र (बेंगलुरु, हैदराबाद, पंतनगर और पुरारा) ने भी अपने-अपने परिसर में यह महत्वपूर्ण दिन मनाया

लखनऊ,26 सितम्बर 2019: प्रो. मुखोपाध्याय ने सीएसआईआर स्थापना दिवस पर ‘ट्राइकोडर्मा-प्लांट डिजीज मैनेजमेंट के लिए सबसे शक्तिशाली शस्त्रागार’ पर व्याख्यान प्रस्तुत करते हुए कहा कि कीटनाशकों के बढ़ते खतरे से खाद्य उत्पादन में काफी नुकसान हो रहा है। उन्होंने पादप रोग प्रबंधन की समस्याओं को दूर करने में कम लागत वाली तकनीक के रूप में ट्राइकोडर्मा की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ट्राइकोडर्मा निवारक, उपचारात्मक और उन्मूलन गतिविधि के साथ एक व्यापक स्पेक्ट्रम जैव-कीटनाशक है। उन्होंने ट्राइकोडर्मा को ‘मानव जाति के लिए भगवान का एक उपहार’ माना।

इस अवसर पर, प्रो. मुखोपाध्याय द्वारा दो उच्च-उपज वाली किस्मों का भी विमोचन किया गया, जिसमें डॉ. वी. आर. सिंह के नेतृत्व में विकसित पचौली की ‘सिम-उत्कृष्ट’ तथा डॉ. ए. के. शुक्ला के नेतृत्व में विकसित कैथरैंटस की ‘सिम-सुशील’ किस्में थीं।

इस मौके पर ऋषभ कोठारी ने अपने संबोधन के दौरान सीमैप द्वारा देश में एस एंड टी विकास के लिए की गई पहलों को सराहा। उन्होंने देश में उद्योग और अनुसंधान संस्थानों के बीच संबंधों को बढ़ावा देने और मजबूत करने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने सीएसआईआर-सीमैप के साथ मिलकर काम करने की इच्छा भी व्यक्त की।

इस कार्यक्रम में सीएसआईआर-सीमैप के निदेशक डॉ. अब्दुल समद ने मुख्य अतिथि और गेस्ट ऑफ ऑनर का पुष्प गुच्छक से स्वागत किया और इस अवसर पर सीएसआईआर-सीमैप के समस्त परिवार को बधाई दी। अपने स्वागत भाषण में संस्थान के योगदान के बारे में अवगत कराया। उन्होंने पिछले वर्ष में सीमैप के महत्वपूर्ण उपलब्धियों पर प्रकाश डाला, विशेष रूप से, हीरक जयंती वर्ष समारोह, मिंट कॉन्फ्रंस, एनआरआईसीएम, ताइपे, ताइवान के प्रतिनिधिमंडल का दौरा और वैज्ञानिक-उद्योग बैठक।

प्रो. अमर नाथ मुखोपाध्याय, एफनास, पूर्व कुलपति, असम कृषि विश्वविद्यालय, जोरहाट, असम, इस अवसर पर मुख्य अतिथि थे। श्री ऋषभ सी. कोठारी, अध्यक्ष, फफाई और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, सीकेसी अरोमास एलएलपी, कोलकाता, विशिष्ट अतिथि थे।

संस्थान में मनाया गया ‘ओपन डे’:

संस्थान में ‘ओपन डे’ मनाया गया जिसमें विभिन्न स्कूलों के लगभग 450 छात्रों ने इस अवसर पर संस्थान का दौरा किया। पिछले एक साल के दौरान सेवानिवृत्त हुए अधिकारियों और कर्मचारियों को भी इस अवसर पर सम्मानित किया गया।  सीएसआईआर-सीमैप परिवार के सदस्य जिन्होंने सीएसआईआर में 25 साल की सेवा पूरी की, उन्हें भी स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। बाद में, मुख्य अतिथि ने स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार भी वितरित किए।

इस अवसर पर प्रतिष्ठित वैज्ञानिक, अनुसंधान और शैक्षिक संस्थानों के संकाय सदस्य, गणमान्य व्यक्ति, विशिष्ट अतिथि और सीएसआईआर-सीमैप के कर्मचारी सदस्य उपस्थित थे। इस कार्यक्रम की आयोजन समिति के अध्यक्ष, डॉ. बिरेंद्र कुमार भी उपस्थित रहे। डॉ. राजेश कुमार वर्मा द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव के साथ समारोह का समापन हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here