जब पता चले कि आपको कंपनी से निकला जा रहा है, तो रखें इन बातों का ध्यान

0
655

जब आप किसी ऑर्गेनाइजेशन में काम करते हैं और यह पता चलता है कि आपको फायर किया जा रहा है और आपके बॉस को भी पता है कि वह चाहकर भी अपना फैसला नहीं बदल सकते हैं, ऐसी स्थिति में आपको झटका लगना स्वाभाविक है। इससे निपटने के लिए एक्सपर्ट कहते हैं कि इन हालात का सामना करने के क्रम में आपको हमेशा पॉजिटिव अप्रोच रखना चाहिए। रोने के बजाए इसे मौके के तौर पर देखना सही होगा। खुद को आगे के लिए तैयार करें। उनका कहना है कि कंपनी से निकाला जाना संभावनाओं का अंत नहीं है। यह एक नई शुरुआत हो सकती है। इसलिए बेहतर होगा कि आप इसे अवसर के रूप में देखें। मनोविश्लेषक भी मानते हैं कि ऐसी परिस्थिति में आपकी सकारात्मक सोच ही काम आती है।

पता चलते ही तैयारी शुरू कर दें :

जैसे ही यह पता चले कि आप छटनी वाली लिस्ट में हैं और जल्द ही आपकी छुट्टी होने वाली है, तो पछतावा या गुस्सा करने की जगह नई जॉब तलाशने की प्रक्रिया शुरू कर दें। हो सकता है कि आपको अपनी भवनाओं पर नियंत्रण करना अमानवीय सा लगे, लेकिन सच है कि गुस्सा और पछतावा से काम नहीं बनने वाला है। ऐसे में आपका फोकस नई जॉब पर होना चाहिए। इसलिए भावनाओं में बहकर समय जाया न करें। कई बार ऐसे भी देखा गया है कि आप काबिल होते हैं, लेकिन आपको तुरंत जॉब नहीं मिल पाती है। ऐसे में निराश होने की जरूरत नहीं है। बल्कि आपको दोगुने जोश से कोशिश जारी रखनी होती है।

पॉजिटिव थिंकिंग से बनेगी करिअर की नई मंजिल:

यदि आपको ऐसा फील हो रहा है कि आप अपनी प्रतिभा का पूूरा इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं, तो भी आपको नई जॉब के बारे में सोचना चाहिए। नई जॉब नई शुरुआत लेकर आती है। कंपनी के फायर करने से पहले ही दूसरी जॉब तलाश लेना से अपने आप में नई ऊर्जा का संचार करता है। नई जॉब तलाशने के लिए सीवी अपडेट करके हर संभावित जगह पर फॉर्वड करें। साथ ही कॉन्टेक्ट को भी रिफ्रेश कर लें।

विपरीत परिस्थिति में भी संयम बनाये रखें:

जॉब एक्सपर्ट का मानना है कि आपके साथ खराब व्यवहार किए जाने का मतलब यह नहीं है कि आप प्रफेशनल अंदाज को छोड़ दें। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि जॉब से निकाले जाने की बातें आपको कितना ठेस पहुंचा रही हैं और आपके साथ कितना खराब व्यवहार किया जा रहा है। विपरीत परिस्थिति में प्रफेशनल लुक अपनाना हमेशा सही होता है। जॉब एक्सपर्ट के मुताबिक कुछ सहकर भी मुस्कुराना एक अच्छी कला है। इससे फ्यूचर में आपको फायदा होने वाला है।

रेफरेन्स में अच्छे कामों शामिल कराना न भूलें:

फायरिंग लिस्ट में आने के बाद अपने बॉस से रेफरेंस लेटर के लिए बात कर सकते हैं,लेकिन यहां भी पॉजिटिव अप्रोच दिखाने की जरूरत है। रेफरेन्स लेटर नए जॉब को हासिल करने के स्ट्रॉन्ग टूल्स साबित होते हैं। इसमें आपके वर्किंग और ड्यूरेशन का जिक्र होता है। साथ ही रेफरेन्स लेटर में आपके द्वारा कंपनी के लिए किए गए अच्छे कामों शामिल कराना न भूलें।

अपनी सोच बदलने के लिए जो भी उपाए जरूरी हो करें:

जॉब से निकाला जाना किसी बड़ें झटके से कम नहीं होता। आपने कंपनी के लिए क्या-क्या किया और उसे बदले में आपको क्या मिला, यह विचार सबसे ज्यादा परेशान करता है। भावनाओं के सैलाब में बहकर कोई भी निर्णय करने से बचें। यहां पर आपको अपनी सोच बदलने के लिए जो भी उपाए जरूरी हो करें और अपन लक्ष्य को झटके के बाद भी किसी तरह हासिल किया जा सकता है, यहाँ इस पर विचार जरूर करें। आप अपने करीबी लोगों से परेशानी शेयर करें और उनसे सलाह लें सकते हैं। याद रखें, आपका फोकस नई जॉब हासिल कर पाकर कॅरियर को इस झटके से उबारना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here