कोरोना वायरस व सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति अभियान चलाएगी हमराह, विडियो कॉन्फ्रेंसिंग से लिया निर्णय

0
258

लखनऊ, 19 मई, 2020: हमराह एक्स कैडेट एनसीसी सेवा संस्थान की वार्षिक बैठक ऑनलाइन वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से की गई। मीटिंग की अध्यक्षता संस्थान के अध्यक्ष रिषी कुमार सिंह के द्वारा की गई। मीटिंग में संस्थान के संस्थापक अजीत कुमार सिंह के द्वारा गत वर्षों में किए गए कार्यों को प्रस्तुत किया गया तथा भविष्य में किए जाने वाले कार्यों कार्यनीति रखी गई। मीटिंग में मुख्य रूप से कोरोना वायरस व सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति जागरूकता को लेकर चर्चा।

इस दौरान संस्थान के द्वारा जानकारी दी गयी कि लॉकडाउन के दौरान जरूरत मंदों और प्रवासी मजदूरों तक भोजन पानी व आवश्यक सामग्रियों का वितरण स्वयं व शासन प्रशासन के माध्यम से अनवरत रूप से जारी रहेगा।

मीटिंग के दौरान निम्नलिखित एजेंडा भी पेश किया गया –

  1. एनसीसी “सी” प्रमाण पत्र धारियों को सुरक्षा बलों, सैनिकों एवं गैर सैनिकों(अर्ध सैनिक) बलों में 5 वर्ष की अतिरिक्त छूट प्रदान की जाए .
  2. प्रत्येक सरकारी नौकरी में 10% आरक्षण एवं बोनस अंक व उम्र में छूट दी जाए.
  3. एनसीसी स्पेशल एंट्री में सीटो की संख्या बढाई जाएँ .
  4. टीएससी, आरडीसी व नौ सेना कैंप, वायूसेना कैम्प सर्टिफिकेट धारी कैडेटों को सेना की सेन्ट्रल भर्तियों में शामिल होने की पात्रता दी जाए .
  5. हाईस्कूल एवं इन्टर कॉलेज में एनसीसी भर्ती होने के 5 और डिग्री कालेज में 3 साल की मेहनत के बाद “सी’ सर्टिफिकेट मिलता है जिससे अधिकतम आयु 21 वर्ष हो जाती है जिससे केवल सेना में योग्यतानुसार फायदा नहीं मिलता है, उम्र अधिक हो जाने के कारण भर्ती से बाहर हो जाते है, एनसीसी एंट्री पदों में रिक्तिया कम होती है जिस कारण कैडेटों को मौका नहीं मिलता है तथा गर्ल्स कैडेटों को केवल 4 रिक्तियाँ मिलती है, जिसे बढ़ाया जाना चाहिए.
  6. पूर्व एनसीसी कैडेटों को होमगार्ड जवानों की भर्ती में आरक्षण प्रदान करवाना.
  7. यदि सेना द्वारा टूर आफ ड्यूटी को आम नागरिको के लिए लागू किया जाता है तो इसमें पूर्व एनसीसी कैडेटों को वरीयता दी जाए.
  8. बैंकों से ऋण प्राप्त कर कुटीर व लघु उद्योगों की स्थापना कर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना.
  9. कोविड-19 के प्रति जागरूकता कार्यक्रम, वेबिनार व विडियो कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से आरोग्य सेतु, सोशल डिस्टेंसिंग के महत्व व जागरूकता कार्यक्रम.
  10. सामाजिक मुद्दों पर आवाज़ उठाना व उनके निस्तारण हेतु शासन स्तर से सहयोग प्रदान कराना व गरीबों को निशुल्क वस्त्र वितरण, स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन, स्वच्छता अभियानों का आयोजन, मतदाता जागरूकता कार्यमक्रमों का आयोजन व नोटा के प्रति जागरूकता अभियान, पर्यावरण एवं जल संरक्षण के प्रति जागरूता अभियान, बेटी बचाओ – बेटी बचाओं की पहल, वृक्षारोपण को बढ़ावा देना, सर्व शिक्षा अभियान के तहत जागरूकता कार्यक्रम, “मैं हेलमेट हूँ” – अभियान के तहत ट्रैफिक के प्रति जागरूकता.
  11. आर टीआई के तहत गरीब लोगो को निशुल्क शिक्षा मुहय्या कराना
  12. संविधान द्वारा प्राप्त मौलिक अधिकारों एवं कर्तव्यों के प्रति जनजागरूकता अभियान चलाना.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here