लालू -नीतीश ने मिलकर बिहार को दिया गरीबी और बेरोजगारी का कलंक

0
119

राष्ट्र सेवा दल 17 सितंबर को करेगी ‘रोजगार एक करोड़’ वर्चुअल रैली

पटना, 15 सितंबर 2020 : राष्ट्र सेवा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रदीप जोशी ने पार्टी  के पटना स्थित प्रदेश कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बिहार में गरीबी और बेरोजगारी की समस्या का जिम्मेदार लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार के शासन को बताया। उन्होंने कहा कि 33 साल में गुरु जयप्रकाश नारायण व कर्पूरी ठाकुर के दो चेलों – लालू और नीतीश की सरकार ने बिहार को देश के सबसे अशिक्षित, गरीब और बेरोजगार  प्रदेश का कलंक देने के अलावा कुछ नहीं किया।

file photo

जोशी ने कहा कि इस कलंक को बिहार का नवनिर्माण करके ही मिटाया जा सकता हैं, जिसके लिए निर्माण और सृजन के देवता भगवान विश्वकर्मा की जयंती पर आगामी 17 सितंबर को राष्ट्र सेवा दल की तरफ से ‘रोजगार एक करोड़’ वर्चुअल रैली का भव्य आयोजन किया जाएगा है। इस रैली में हम बताएंगे कि कैसे सत्ता में आने पर हम बिहार के एक करोड़ लोगों को रोजगार दिया देंगे।

उन्होंने कहा कि शर्म की बात है कि उसी 17 सितम्बर को देश के कई हिस्सों में लाखों बेरोजगार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस के विरोध में बेरोजगार दिवस मनाने वाले हैं। हम चाहते हैं कि तमाम बेरजोगार भाई बहन हमारी रैली से जुड़े और हमें सुनें फिर चुनें। झूठे वादों के उस्ताद मोदी, नीतीश और लालू जैसे नेताओं के झांसे में अब किसी भी कीमत पर ना आएं।

जोशी ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान अपनी पार्टी के चुनावी नारे ‘अबकी बार बेरोजगारों की सरकार’ को लेकर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि हमें ऐसे बिहार का निर्माण करना है जिससे देश और विदेश में रोजगार के साथ बिहारवासियों को सम्मान मिले। हमे ऐसा बिहार बनाना है जो देश के दूसरे राज्यों से नहीं बल्कि दुनिया के सबसे विकसित देशों से मुकाबला कर सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here