अमीरात्स एनबीडी ने अपनी पहली शाखा का अनावरण मुंबई में किया

0
660
  • दुबई के सबसे बड़े बैंक ने भारतीय संचालनों के लिए 100 मिलियन यूएसडी की पूंजी का निवेश किया
  • बैंक कार्पोरेट, संस्थागत व एनआरआई ग्राहकों को सेवाएं देगा

मुंबई, 9 नवंबर 2017: मध्य पूर्व में एक अग्रणी बैंकिंग समूह अमीरात्स एनबीडी ने ताज महल होटल, मुंबई में बेहद उत्साह के साथ भारत में अपनी पहली शाखा शुरू करने की घोषणा की है।

मेकर मैक्सिटी, बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में स्थिति यह मुंबई शाखा बैंक के यूएई नेटवर्क से बाहर इसकी पांचवी अंतर्राष्ट्रीय शाखा है। यह शाखा क्रॉस—बॉर्डर सं​पत्ति प्रबंधन का समाधान खोज रहे एनआरआई (प्रवासी भारतीय) ग्राहकों को सहयोग देने के अलावा कार्पोरेट, एसएमई व संस्थागत ग्राहकों को ट्रेड फाइनांस, ट्रेजरी सेवाएं, द्विपक्षी व संबद्ध लोन्स सहित कई प्रकार की सेवाएं देगा। अमीरात्स एनबीडी के भारत संचालन के प्रमुख शरद अग्रवाल होंगे, जो एक अनुभव व्यावसायिक हैं जिनके पास अमीरात्स एनबीडी ग्रुप में एक दशक के अनुभव सहित भारत व यूएई में 20 साल का बैंकिंग अनुभव है।

 अमीरात्स एनबीडी संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में कार्पोरेट व रिटेल बैंकिंग क्षेत्र में एक बड़ी कंपनी है और इस्लामिक बैंकिंग, वैश्विक बाजार व ट्रेजरी, निवेश बैंकिंग, निजी बैंकिंग, संपत्ति प्रबंधन व ब्रोकरेज में इसका संचालन मजबूत है। यूएई में इसकी एक महत्वपूर्ण रिटेल बैंकिंग फ्रेंचाइजी है और 90 प्रतिशत से ज्यादा वित्तीय लेन—देन व निवेदन इसकी शाखाओं से बाहर किए जाने के साथ, यह वै​श्विक डिजिटल बैंकिंग उद्योग में एक प्रमुख भागीदार है। फिलहाल यूएई व विदेश में इस बैंक के 231 से ज्यादा शाखाएं और 1000 से ज्यादा एटीएम व सीडीएम हैं और एक बड़ी सोशल मीडिया फॉलोइंग भी है, क्योंकि मध्य पूर्व का एकमात्र बैंक है जो फाइनांशियल ब्रांड द्वारा संयोजित ‘पावर 100 सोशल मीडिया रैंकिंग्स’ में टॉप 20 में मौजूद है।

 अमीरात्स एनबीडी के ग्रुप सीईओ शायने नेल्सन ने कहा, “भारत के साथ यूएई के मजबूत ऐतिहासिक, सांस्कृतिक व व्यापारिक संबंधों की वजह से, इस देश में अपना प्रसार करके हम काफी खुश हैं। यूएई के प्रमुख व्यापारिक साझेदार और दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ रही अर्थव्यवस्था में से एक होने के नाते, भारत एक महत्वपूर्ण और कार्यनीतिक वृद्धि का बाजार प्रस्तुत करता है। अमीरात्स एनबीडी यूएई का एकमात्र ऐसा बैंक है जिसकी शाखाएं मध्य पूर्व व उत्तरी अफ्रीका (एमईएनए) से लेकर एशिया व यूनाइडेट किंगडम (यूके) तक भारत के सभी महत्वपूर्ण व्यापारिक कॉरिडोर्स में हैं और हमारा लक्ष्य एमईएनए क्षेत्र में निवेश व व्यापार करने की कोशिश कर रहे भारतीय कार्पोरेट्स व व्यक्तियों का पसंदीदा बैंक बनना है।”

2015 में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किए गए उच्च स्तरीय दौरे और हाल ही में स्थापित यूएई—भारत अवसंरचना निवेश फंड के बाद, दुबई के सबसे बड़े द्वारा यह शाखा खोलने से भारत व यूएई के बीच के मौजूदा आर्थिक, व्यापारिक व द्विपक्षीय संबंधों को और भी मजबूती मिलेगी।

 अमीरात्स एनबीडी में सीईओइंडिया शरद अग्रवाल ने कहा, “यह नई शाखा जो मौके लेकर आई है उसे लेकर हम उत्साहित हैं क्योंकि हम भारत में धीरे—धीरे अपनी उपस्थिति बढ़ाएंगे। हमने भारतीय ग्राहकों के आधार में निकटता स्थापित करने क्रॉस—बॉर्डर परामर्श व अध्यस्थ सेवाएं खोज रहे एनआरआई व व्यापारियों को बेहतर सहयोग देने के लिए 100 मिलियन यूएसडी का निवेश किया है।”

भारतीय यूएई में सबसे बड़ा प्रवासी समुदाय है और अमीरात्स एनबीडी का एक—तिहाई ग्राहक आधार भारत से है। इस बैंक के 60 सेकंड में भारत फंड भेजने की सेवा, डायरेक्टरेमिट, ने इस साल लगभग एक अरब दिरहम का एनआरआई विप्रेषण मुहैया कराया है। अमीरात्स एनबीडी अपनी लंदन शाखा एक समर्पित एनआरआई डेस्क के अलावा एनआरआई ग्राहकों को अपने भारतीय साझेदार बैंकों में एनआरई सावधि जमा के​ निमित्त व्यक्तिगत ऋण प्रस्तुत करता है। मध्य पूर्व व उत्तरी अफ्रीका (यूएई, इजिप्ट व केएसए) से लेकर एशिया तक (सिंगापुर, चीन व इंडोनेशिया) व यूके (लंदन) तक भारत के सभी प्रमुख व्यापारिक कॉरिडोर्स में अमीरात्स एनबीडी की उपस्थिति है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here