संगीत नाटक अकादमी की लोक संगीत ऑनलाइन कार्यशाला प्रारम्भ

0
420

अब होंगी ‘मेक-अप’ और ‘एक्सप्रेशन एण्ड स्पीच’ की कार्यशालाएं

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी की ओर से संचालित होने वाली अवधी-भोजपुरी संस्कार गीतों की निःशुल्क लोक संगीत कार्यशाला प्रारम्भ हो गई। कथक कार्यशाला के बाद कोविड-19 के कारण ये अकादमी द्वारा ऑनलाइन संचालित हो रही दूसरी कार्यशाला है। गोरखपुर से इसका संचालन प्रसिद्व लोकगायक राकेश श्रीवास्तव कर रहे हैं। अकादमी इन कार्यशालाओें के बाद ऑनलाइन ही ‘मेक-अप’ और ‘एक्सप्रेशन एण्ड स्पीच’ की कार्यशालाएं संचालित करने की तैयारी में है।

अकादमी के सचिव तरुण राज ने बताया कि ऑनलाइन लोक संगीत कार्यशाला में गोरखपुर, लखनऊ, महाराजगंज, बस्ती, गाजीपुर व सिद्धार्थनगर आदि शहरों के 60 प्रतिभागियों ने पंजीकरण करवाया हैं। इसके बाद अकादमी आठ जून से 27 जून तक मेक-अप आर्टिस्ट दिनेश अवस्थी के संचालन मे मेक-अप कार्यशाला का संचालन प्रतिदिन दोपहर 12 से एक बजे तक प्रारम्भ कर रही है। इसी क्रम में 15 जून से चार जुलाई तक ‘एक्सप्रेशन एण्ड स्पीच’ कार्यशाला रंगकर्मी अरुण शेखर के मार्गदर्शन में प्रतिदिन दोपहर बाद ढाई से साढ़े तीन बजे तक संयोजित की जा रही हैं। यह दोनों कार्यशालाएं भी ऑनलाइन होंगी।

‘मेकअप’ कार्यशाला में प्रतिभागिता के इच्छुक कलाकार कार्यशाला का विषय, अपना नाम, अभिभावक का नाम, अपना पूरा पता, जन्मतिथि, फोटो, अपना व्हाट्सएप नम्बर तथा ई-मेल आईडी के साथ सात जून तक और व ‘एक्सप्रेशन एण्ड स्पीच’ कार्यशाला के लिए 10 जून तक व्हाट्सएप नम्बर- 9415210106 पर भेजकर पंजीकरण करा सकते हैं। अकादमी की ऑनलाइन कथक कार्यशाला में जहां प्रतिभागियों की संख्या बहुत अधिक है। इसमें कैलिफोर्निया व बहरीन से विदेशी प्रतिभागी भी शामिल हैं। यह छह बैचों और अकादमी कथक केन्द्र की दो प्रशिक्षिकाओं के माध्यम से संचालित हो रही है। ‘मेक-अप’ और ‘एक्सप्रेशन एण्ड स्पीच’ की यह दोनों ऑनलाइन कार्यशालाएं केवल उत्तर प्रदेश के प्रतिभागियों के लिए हैं। मेक-अप कार्यशाला का संचालन अकादमी कार्यालय लखनऊ से होगा जबकि ‘एक्सप्रेशन एण्ड स्पीच’ कार्यशाला रंगकर्मी अरुण शेखर अपने गृह जनपद से संचालित करेंगे।

संस्कार गीतों की लोकसंगीत कार्यशाला के संचालक राकेश श्रीवास्तव ने बताया कि कार्यशाला में वह अवधी व भोजपुरी के सोहर, मुंडन, जनेऊ विवाह संस्कार आदि से सम्बंधित लुप्तप्राय पारम्परिक संस्कार गीतों का प्रशिक्षण प्रतिभागियों को दे रहे हैं। यह ऑनलाइन कार्यशाला प्रतिदिन सुबह 8 से 9 बजे तक 25 जून तक चलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here