मैंने रघुवंश प्रसाद सिंह जैसा एक सच्चा मित्र खो दिया: शरद यादव

0
279

निधन पर शरद यादव ने जताया शोक:

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन पर दिग्गज नेता शरद यादव ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की। उन्होंने अपने शोक संदेश में कहा कि रघुवंश बाबू के निधन की खबर सुनकर बहुत ही दुख हुआ और मेरे लिए बहुत ही दर्द देने वाली है। यह ना केवल मेरे घनिष्ठ मित्र थे, बल्कि एक परिवार की तरह थे क्योंकि हम दोनों देश और बिहार राज्य की राजनीति पर तो चर्चा करते ही थे बल्कि एक दूसरे के दुख सुख के बारे में भी सच्चे मन से चर्चा किया करते थे। आजकल के समय में ऐसे मित्र कहा मिलते हैं जिससे दिल की बात कही जा सके मगर रघुवंश बाबू एक ऐसे दिलदार मित्र और राजनेता थे जिनसे में सभी बातें कर लेता था।

शरद यादव ने कहा कि रघुवंश बाबू के स्वर्गवास से ना केवल मैने एक सच्चा मित्र खो दिया, बल्कि देश ने एक वरिष्ठ राजनीतिज्ञ, समाजसेवक, कद्दावर नेता, विद्वान, राष्ट्रभक्त, अत्यंत लोकप्रिय और मानवीय संवेदना से परिपूर्ण राजनेता को खो दिया है। उनके प्रशंसक सभी दलों में थे। वह करोड़ों भारतीयों की प्रेरणास्त्रोत रहे। उनके निधन से राष्ट्र को अपूरणीय क्षति हुई है। उनके किसी भी कार्यकाल के दौरान चाहे वह सदस्य विधान सभा के रहे, परिषद के रहे, संसद के रहे और चाहे मंत्री के रूप में राज्य में या केंद्र में रहे उनके विशाल योगदानों को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा।

उन्होंने कहा कि रघुवंश बाबू के पास भरपूर ज्ञान था। वह कोई भी विषय हो, हमने उनको विधान सभा, विधान परिषद हो और संसद में हो ऐसा कोई मुद्दा नहीं होता था जिसपर वह बोलते नहीं थे। कोई भी डिबेट जनके बोले बिना अधुरी रह जाती थी और वैसे तो वह हमेशा सदन में बैठे रहते थे जबकि बाकी सांसदों की संख्या और दलों से कम भी रही हो मगर वह हमेशा सदन में मिलते थे और हर मुद्दे पर अपने विचार रखते थे। एक प्रखर वक्ता, ओजस्वी और कुशल नेता थे जिनके लोक कल्याण के क्षेत्र में और देश हित में किए कार्यों को हमेशा याद रखा जाएगा। मेरा मानना है कि ऐसे व्यक्ति बहुत मुश्किल से मिलते हैं जो सिर्फ देश भक्ति के लिए ही पैदा होते हैं जैसे रघुवंश बाबू थे।

विकासशील इंसान पार्टी ने रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन जताया गहरा शोक:

विकासशील इंसान पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष मुकेश सहनी ने आज पूर्व केंद्रीय मंत्री व राजद नेता रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन पर गहरा शोक व्‍यक्‍त किया। इस दौरान उन्‍होंने अपने शोक संदेश में कहा कि रघुवंश बाबू प्रखर समाजवादी नेता और गरीबों की आवाज थे। उनके असामयिक निधन से राष्ट्रीय राजनीति को गहरा धक्का लगा है। महागठबंधन को एकसूत्र में पिरोने में उनकी भूमिका महत्‍वपूर्ण रही। वे हमारे लिए मार्गदर्शक भी हैं। सहनी ने कहा कि आज समाजवाद विचारधारा के मानने वाले हम सभी लोग मर्माहत हैं। हम भगवान से प्रार्थना करते हैं कि ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे।

रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन पर लोकतांत्रिक जनता दल ने जताया गहरा शोक:

लोकतांत्रिक जनता दल के नेता व पूर्व सांसद अर्जुन राय एवं प्रदेश महासचिव राजेंद्र सिंह यादव ने पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन पर गहरा शोक व्‍यक्‍त किया। उन्‍होंने रघुवंश बाबू को याद करते हुए कहा कि रघुवंश बाबू बिहार के उन क़द्दावर नेताओं में गिने जाते थे, जिन्होंने समाज के पिछड़े और कमजोर वर्गों के अधिकारों के लिए आजीवन संघर्ष किया। दलगत राजनीति से वे काफी उपर थे। ग्रामीण इलाकों, खेत-खलिहानों और सामाजिक न्याय की मजबूत आवाज रघुवंश बाबू का निधन भारतीय राजनीति के लिए एक अपूर्णीय क्षति है, क्‍योंकि  वे एक प्रबुद्ध एवं संवेदनशील व्यक्ति थे। उनके निधन से पूरा बिहार दुःखी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here