अरिहंत देगी देश के दुश्मनों को कड़ा जवाब: प्रधानमंत्री

0
148

अपनी पहली गश्त अभियान से सफलता पूर्वक लौटा आईएनएस अरिहंत

नई दिल्ली, 06 नवंबर 2018: प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने स्वदेशी पनडुब्बी आईएनएस अरिहंत को ऐतिहासिक उपलब्धि बताते हुए सोमवार को कहा कि परमाणु शक्ति से चलने तथा परमाणु हथियारों से लैस पहली स्वदेशी पनडुब्बी आईएनएस अरिहंत के पहले गश्त अभियान को सफलतापूर्वक पूरा करने के साथ ही देश ने जल, थल और नभ से परमाणु हथियार दागने की क्षमता हासिल कर नाभिकीय त्रिकोण का मुकाम हासिल कर लिया है।

उन्होंने कहा कि यह पहला मौका है जब अरिहंत के अभियान के बारे में सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर कुछ कहा गया है। सफल गश्त अभियान से लौटी अरिहंत की पूरी टीम को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि यह देश की सुरक्षा के लिए बहुत बड़ा कदम और बेमिसाल उपलब्धि है।

भारत के दुश्मनों और शांति के दुश्मनों के लिए खुली चेतावनी:

उन्होंने कहा कि पड़ोस में परमाणु हथियारों की बढ़ोतरी के बीच विश्वसनीय परमाणु प्रतिरोधक क्षमता समय की जरूरत तो है ही यह भारत के दुश्मनों और शांति के दुश्मनों के लिए खुली चेतावनी है कि कोई किसी तरह का दुस्साहस न करे। उन्होंने कहा, आपकी यह सफलता परमाणु हथियारों के नाम पर ‘ब्लैकमेलिंग’ का माकूल और मुंहतोड़ जवाब है।

अरिहंत की टीम देश के दुश्मनों को देगी कड़ा जवाब:

श्री मोदी ने कहा कि जब सारा देश दुर्गा पूजा और विजय दशमी का उत्सव मना रहा था उस समय अरिहंत की टीम देश के दुश्मनों का विनाश करने और देश की रक्षा के लिए अभियान और अभ्यास में जुटी थी। उन्होंने कहा कि यह धनतेरस खास है। अमूमन सभी इस देश अपने और परिवार के लिए विशेष उपहार लाते हैं इसी कड़ी में यह देश को दीवाली पर मिला अनुपम, अनूठा और बेमिसाल उपहार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here