विजय माल्या को लेकर ढाई साल तक रहस्य बनाएं रहें अरुण जेटली: कांग्रेस

0
410

नई दिल्ली, 13 सितम्बर 2018: विजय माल्या के कथित बयान को लेकर कांग्रेस ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को लेकर चौतरफा घेरने की रणनीति पर भाजपा दिनोंदिन घिरती जा रही है। माना जा रहा है विजय माल्या ने अरुण जेटली से मुलाकात का खुलासा कर कांग्रेस को एक बड़ा मुद्दा दे दिया है।

बता दें कि लिकर किंग विजय माल्या से मुलाकात को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली और भाजपा पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है। राहुल ने वित्त मंत्री जेटली का घेराव करते हुए कहा है कि लंबे-लंबे ब्लॉग लिखने वाले अब झूठ बोल रहे हैं। राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि अरुण जेटली ने एक भगोड़े अपराधी से साठगांठ की। उन्होंने कहा कि जेटली को यह बात पता था कि माल्या भागने वाले हैं। राहुल गांधी ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एक-एक कर जेटली से कई सवाल भी पूछे और कहा कि आखिर इस मुलाकात की जानकारी उन्होंने सीबीआइ और इडी को क्यों नहीं दी।

वित्त मंत्री बताएं, क्या उन्होंने भगोड़े को हिंदुस्तान से भागने दिया? 

राहुल गांधी ने कहा, विजय माल्या ने कल कहा कि जाने से पहले अरुण जेटली जी से संसद में मुलाकात की। अरुण जेटली ने हर मीटिंग पर ब्लॉग लिखा, लेकिन मैं यह नहीं जानता कि इस मुलाकात पर कोई ब्लॉग क्यों नहीं लिखा। वह (वित्त मंत्री) कहते हैं कि उन्होंने माल्या से कुछ ही शब्द बोले, जो कि झूठ है। राहुल गांधी ने कहा, ‘सरकार में प्रधानमंत्री सब कुछ तय करते हैं। वित्त मंत्री जी हिन्दुस्तान को बताएं कि क्या उन्होंने भगोड़े को हिंदुस्तान से भागने दिया या इसके लिए उनको प्रधानमंत्री जी से आदेश आया था?

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘पहला सवाल ये है कि वित्त मंत्री भगोड़ों से बात करते हैं। भगोड़ा, वित्त मंत्री से कहता है कि मैं अब लंदन जाने वाला हूं, लेकिन वित्त मंत्री ने सीबीआई, ईडी या पुलिस को नहीं बताया। क्यों? वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में गुरुवार को एक प्रेस वार्ता के दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता पीएल पुनिया ने दावा किया कि उन्होंने संसद के सेंट्रल हॉल में माल्या और जेटली को मिलते हुए देखा था। उन्होंने कहा कि यह कोई छोटी मुलाकात नहीं थी बल्कि 15-20 की बैठक हुई।

ढाई साल तक चुप्पी साधे रहे बड़ी बात: पीएल पुनिया

पुनिया ने कहा, ‘ढाई साल तक चुप्पी साधे रहे, ढाई साल तक रहस्य बनाये रहे। संसद में बहस भी हुई लेकिन जेटली जी ने कहीं भी इसका जिक्र नहीं किया। इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीएल पुनिया ने गुरुवार को दावा किया कि उन्होंने शराब कारोबारी विजय माल्या के देश से भागने से दो दिन पहले उसे संसद के केंद्रीय कक्ष में वित्त मंत्री अरुण जेटली से बात करते हुए देखा था। पुनिया ने कहा, ‘जब माल्या के देश से भागने की खबर आई तो उससे दो दिन पहले ही मैंने संसद के केंद्रीय कक्ष में उसे जेटली जी के साथ बातचीत करते देखा था। मैंने देखा कि दोनों खड़े होकर बातचीत कर रहे हैं। इससे पहले, रात पुनिया ने ट्वीट करके भी यह दावा किया था और जेटली पर ‘झूठ बोलने’ का आरोप लगाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here