बिहार राज्य उच्च स्तरीय माध्यमिक अतिथि शिक्षक संघ का एकदिवसीय भूख हड़ताल 11 जनवरी को

0
283
  • संघ ने शिक्षा विभाग पर लगाया मुख्‍यमंत्री के आश्‍वासन व निर्देश की अवहेलना कर लोकतंत्र की हत्‍या का अरोप
  • जल जीवन हरियाली मानव श्रृंखला को मिलेगा संघ का समर्थन

पटना, 10 जनवरी 2020 : बिहार राज्य उच्च स्तरीय माध्यमिक अतिथि शिक्षक संघ ने बिहार सरकार द्वारा जल जीवन हरियाली को लेकर 19 जनवरी 2020 को होने वाली मानव श्रृंखला का समर्थन करने का फैसला करते हुए अपनी मांगों को लेकर 11 जनवरी को एकदिवसीय भूख हड़ातल की घोषणा की है। यह घोषण संघ की बैठक के दौरान पटना के नंदलाल छपरा में आहूत की गई, जिसकी अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष नरेंद्र कुमार एवं संचालन प्रदेश महासचिव डॉ विपिन बिहारी ने किया।

बैठक में कहा गया कि संघ बिहार सरकार द्वारा जल जीवन हरियाली को लेकर होने वाली मानव श्रृंखला को समर्थन तो करेगी, लेकिन साथ में अपनी मुख्य मांग 4203 अतिथि शिक्षकों की सेवा नियमित करने को लेकर एवं तत्काल प्रभाव से STET 2019 में 4203 अतिथि शिक्षकों के पदों को रिक्ति से अलग करने की मांग को लेकर 11 जनवरी 2020 को गर्दनीबाग पटना में भूख हड़ताल पर बैठेगी। गौरतलब है कि पिछले सप्ताह माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के द्वारा जल जीवन हरियाली यात्रा के दौरान अतिथि शिक्षकों के शिष्टमंडल की मुलाकात मोतिहारी मधेपुरा और किशनगंज में हुई, जहां स्पष्ट रूप से मुख्यमंत्री महोदय द्वारा यह आश्वासन दिया गया कि अतिथि शिक्षकों की सेवा परमानेंट हो जायेगी।

मगर, मुख्यमंत्री के आश्वासन एवं निर्देश को दरकिनार करते हुए शिक्षा विभाग 28 जनवरी 2020 को STET 2019 के आयोजन में कार्यरत 4203 अतिथि शिक्षकों के पदों को रिक्त दिखाकर लोकतंत्र की हत्या करने का काम किया, जिसकी निंदा करते हुए संघ मुख्यमंत्री महोदय से आधिकारिक घोषणा नियमितीकरण करने की मांग को लेकर पूरे बिहार के 4203 अतिथि शिक्षक 11 जनवरी 2020 को गर्दनीबाग पटना में भूख हड़ताल पर बैठेंगे। शिक्षा विभाग के अन्याय पूर्ण फैसले से पूरे बिहार के अतिथि शिक्षक बेघर होने जा रहे हैं।  

बैठक में मुख्य रूप से संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष खुशबू सिन्हा प्रदेश समन्वयक अजीत कुमार लोहिया प्रदेश सचिव माधुरी कुमारी प्रदेश कोषाध्यक्ष रामकृष्ण दिग्विजय प्रदेश प्रवक्ता तरन्नुम हाफिज संतोष चंद्रकांत कल्पना भारतीय एवं संघ के वरिष्ठ नेता ने भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here