प्रतिभाओं को तलाशने के लिए नेशनल जैवलिन थ्रो ओपन चैंपियनशिप 9 सितम्बर से

0
889
16 सोलह श्रेष्ठ एथलीटों को फिनलैंड में दी जाएगी दो साल की मुफ्त ट्रेनिंग
लखनऊ, 08 सितम्बर 2018: जैवलिन में भविष्य की प्रतिभाओं को तलाशने के मकसद से नेशनल जैवलिन थ्रो ओपन चैंपियनशिप का आयोजन रविवार 9 सितम्बर को 35वीं वाहिनी पीएसी के सिंथेटिक एथलेटिक्स स्टेडियम में शुरू होगी।
यूपी एथलेटिक्स एसोसिएशन के तत्वावधान में होने वाली एक दिवसीय इस चैंपियनशिप की मेजबानी एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने यूपी को दी है।
यूपी एथलेटिक्स एसोसिएशन के सचिव पीके श्रीवास्तव ने बताया कि जैवलिन थ्रो ओपन चैंपियनशिप का मकसद इस खेल में प्रतिभाशाली खिलाड़ियों का चुनाव करना है। उन्होंने बताया कि एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा इस जैवलिन चैलेंज के माध्यम से सोलह श्रेष्ठ एथलीटों को चुना जाएगा। इन्हें फिनलैंड में दो साल तक मुफ्त ट्रेनिंग दी जाएगी जिसका खर्च केंद्र सरकार वहन करेंगी। उन्हांेंने बताया कि एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक विजेता जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा भी फिनलैंड में ही ट्रेनिंग करते हैं।
उन्होंने बताया कि जैवलिन थ्रो उन आठ इवेंट की सूची में से एक है जिसेे एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने आगामी इंटरनेशनल टूर्नामेंट, कामनवेल्थ गेम्स, एशियाड व ओलंपिक में पदक की संभावनओं के मद्देनजर तैयार किया है।
उन्होंने बताया कि इसमें पुरूष वर्ग (800 ग्राम), पुरूष अंडर-20 आयु वर्ग (800 ग्राम), बालक अंडर-18 (700 ग्राम), बालक अंडर-16(700 ग्राम), महिला वर्ग (600 ग्राम), महिला अंडर-20 (600 ग्राम), बालिका अंडर-18 (600 ग्राम), बालिका अंडर-16 (500 ग्राम) की स्पर्धाओं में एथलीट हिस्सा लेंगे।
उन्होंने यह भी बताया कि भविष्य के नेशनल कैंपों के लिए खिलाड़ियों का चयन उनके आगामी चैंपियनशिप में प्रदर्शन के आधार पर किया जाएगा।
इस चैंपियनशिप के लिए एथलीट लखनऊ पहुंच गए है और निशातगंज गेस्ट हाउस में उनके ठहरने की व्यवस्था की गई है। चैंपियनशिप का उद्घाटन सुबह नौ बजे मुख्य अतिथि श्री अनिल कुमार सागर (वरिष्ठ उपाध्यक्ष, यूपी एथलेटिक्स एसोसिएशन) करेंगे।
लखनऊ जिला एथलेटिक्स एसोसिएशन के सचिव बीआर वरूण के अनुसार खिलाड़ियों के निवास व खाने की व्यवस्था जिलाएसोसिएशन कीओर से की गई है। उन्होंने बताया कि चैंपियनशिप का समापन व पुरस्कार वितरण समारोह कल शाम चार बजे मुख्य अतिथि श्री अनिल कुमार सागर और श्रीमती रचना गोविल (कार्यकारी निदेशक,साई सेंटर लखनऊ) के करकमलों द्वारा होगा।
वही इस चैंपियनशिप में नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी की टीम भी मुस्तैद रहेगी। वहीं आयु संबंधी टेस्ट भी पूरी सख्ती से किए जाएंगे।
Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here