उत्तर प्रदेश का पहले दिन तीन स्वर्ण सहित आठ पदक के साथ दबदबा

0
629
  • 39वीं राष्ट्रीय ताइक्वाण्डो चैंपियनशिप शुरू
  • ग्रैंड मास्टर जिम्मी आर. जगतियानी द्वारा लिखी गई पुस्तक ताइक्वांडो टेक्सट बुक पार्ट-1 का हुआ विमोचन

लखनऊ,14 जून 2019: केडी सिंह बाबू स्टेडियम के बैडमिंटन हाल में शुरू हुई 39वीं राष्ट्रीय ताइक्वाण्डो चैंपियनशिप में मेजबान उत्तर प्रदेश के खिलाड़ियों ने पहले दिन तीन स्वर्ण, तीन रजत पदक और दो कांस्य पदक जीतकर अपना दबदबा कायम किया। ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इंडिया के तत्वावधान में आयोजित इस चैंपियनशिप के पहले दिन ओडिशा और दिल्ली के खिलाड़ियों ने दो-दो स्वर्ण पदक जीते। पंजाब, मध्य प्रदेश, कर्नाटक,जम्मू-कश्मीर, तेलंगाना ओर पश्चिम बंगाल को एक-एक स्वर्ण पदक मिला।


यूपी के लिए नोमान खान, उर्षिता मोहंती, आराध्या त्रिपाठी ने स्वर्ण जीते। रूद्र प्रताप सिंह, मो.इमरान इस्लाम, सुधिक्षा शर्मा ने रजत और अजय कृष्णा, आरव शर्मा ने कांस्य पदक जीते।

इससे पहले चैंपियनशिप का उद्घाटन उत्तर प्रदेश सरकार के कानून और न्याय मंत्री श्री बृजेश पाठक ने किया। उन्होंने इस अवसर पर भारत में ताइक्वांडो खेल के जन्मदाता ग्रैंड मास्टर जिम्मी आर. जगतियानी (आठवीं डान ब्लैक बेल्ट होल्डर) द्वारा लिखी गई पुस्तक ताइक्वांडो टेक्सट बुक पार्ट-1 का विमोचन भी किया। श्री जिम्मी जगतियानी ताइक्वांडो पर पुस्तक लिखने वाले देश के पहले व्यक्ति है। इस पुस्तक के द्वारा कोई भी ताइक्वांडो और गैर ताइक्वांडो खिलाड़ी ताइक्वांडो की विभिन्न विधाओं से परिचित हो सकता है और ताइक्वांडो सीख कर परीक्षा दे सकता है।

आज उद्घाटन के अवसर पर मुख्य अतिथि श्री बृजेश पाठक ने ने कहा कि ताइक्वांडो खेल के साथ एक आत्मरक्षा की कला भी है और वर्तमान परिस्थ्तिियों में हर व्यक्ति खासकर लड़कियों को इसमें महारत हासिल करनी चाहिए। आज के हालत में ताइक्वांडो लड़कियों की सुरक्षा के लिए एक बेहतरीन उपाय हो सकता है। इस दौरान एसआर कॉलेज के चेयरमैन श्री पवन सिंह चौहान ने भी ताइक्वांडो की महत्ता पर प्रकाश डाला और इसे आज की जरूरत बताया। ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इंडिया के कोषाध्यक्ष श्री सुधीर हलवासिया ने उपस्थित अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर श्री केआर भार्गव, पीटर जगतियानी, कोमल जगतियानी, आरपी सिंह, राजेश कुमार सिंह, मनोज वर्मा, किरण कश्यप, कीर्ति जगतियानी भी मौजूद रहे।

ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इंडिया के महासचिव जिम्मी आर जगतियानी ने बताया कि इस चैंपियनशिप में देश के 22 राज्यों के लगभग 700 खिलाड़ी भाग ले रहे है।

पहले दिन के परिणाम:

पीवी मेल (अंडर-18 किग्रा):
स्वर्णः हृदान कटारिया (दिल्ली), रजतः साहिल धीरज परमार (गुजरात),
पीवी मेल (अंडर-28 किग्रा):
स्वर्णः मो.नोमान खान (उत्तर प्रदेश), रजतः रूद्र प्रताप सिंह (उत्तर प्रदेश), कांस्यः गेरार्ड सी.डिकोस्टा (महाराष्ट्र) और मनजोत सिंह (पंजाब)
पीवी मेल (अंडर-22 किग्रा):
स्वर्णः असद बेग (मध्य प्रदेश), रजतः विक्रम चौहान (पंजाब), अजय कृष्णा (उत्तर प्रदेश)
पीवी फीमेल (अंडर-20 किग्रा):
स्वर्णः उर्षिता मोहंती (उत्तर प्रदेश)
सब जूनियर फीमेल (अंडर-21 किग्रा):
स्वर्णः आराध्या त्रिपाठी (उत्तर प्रदेश)
पीवी मेल (अंडर-24 किग्रा):
स्वर्णः अमोघ सी (कर्नाटक), रजतः आर्यन रोहित (महाराष्ट्र), कांस्यः सिमरन जीत सिंह (पंजाब) और प्रियांशु प्रतीक (उड़ीसा)
पीवी मेल (अंडर-26 किग्रा):
स्वर्णः सार्थक कुमार (दिल्ली), रजतः एकम वीर सिंह (पंजाब)
पीवी मेल (अंडर-29 किग्रा):
स्वर्णः शुभाजीत मुलिक (उड़ीसा), रजतः चिराग खाटेर (तमिलनाडु), कांस्यः ईशान गुप्ता (चंडीगढ़), आरव शर्मा (उत्तर प्रदेश)
पीवी मेल (अंडर-38 किग्रा):
स्वर्णः सात्विक वर्मा (जम्मू-कश्मीर), रजतः मो.इमरान इस्लाम (उत्तर प्रदेश)
पीवी फीमेल (क्योरगी, अंडर-18 किग्रा ):
स्वर्णः सामिख्या नंदा (उड़ीसा)
पीवी फीमेल (क्योरगी, अंडर-22 किग्रा):
स्वर्णः नायना माहवी एस (तेलंगाना), रजतः सुधिक्षा शर्मा (उत्तर प्रदेश)
पीवी फीमेल (क्योरगी, अंडर-24 किग्रा):
स्वर्णः सुखवीर कौर (पंजाब)
पीवी फीमेल (क्योरगी, अंडर-35 किग्रा):
स्वर्णः साव्या पुजारी (महाराष्ट्र)
पीवी फीमेल (क्योरगी, 35 किग्रा से ज्यादा):
स्वर्णः गीती मजहर (पश्चिम बंगाल)।

Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here