सुशांत राजपूत मामले में मीडिया ट्रायल सही नहीं, न्याय प्रक्रिया पर पड़ सकता है प्रभाव: अपर महाधिवक्ता

0
175
  • जजमेंट राइटिंग में 55 विश्वविद्यालयों ने लिया हिस्सा, तमिलनाडु अम्बेडकर यूनिवर्सिटी की हारिणी व दीपक रहे अव्वल
  • लखनऊ विवि के विधि संकाय ने कराई थी प्रतियोगिता, रविवार को हुआ आनलाइन सम्मान समारोह

लखनऊ विश्वविद्यालय के विधि संकाय द्वारा “प्रथम डॉ आर.यू सिंह मेमोरियल निर्णय लेखन (जजमेंट राईटिंग) प्रतियोगिता के सम्मान समारोह का आयोजन रविवार को ऑनलाइन माध्यम से किया गया। इस प्रतियोगिता में हारिणी पीएम और दीपक एनएस दी तमिलनाडु अम्बेडकर यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ एक्सेलेंसी इन लॉ ने प्रथम स्थान, रितिका रांका एन. यू.ए. एल.एस, कोची एवं जुलय सीजू औऱ वी. नाइडल, क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बैंगलोर ने द्वितीय स्थान हासिल किया। तृतीय स्थान पर मुदिता गैरोला, राजीव गांधी स्कूल ऑफ आई.पी. लॉ, आई.आई.टी खरगपुर रही।

इस प्रतियोगिता में देश की विभिन्न जगहों से लगभग 55 यूनिवर्सिटी की 72 टीम ने भाग लिया। इस आयोजन में विधि संकाय विवि के प्रो. मोहम्मद अहमद एवं डॉ. मृणालीनी सिंह भी उपस्थित रहे। समोराह के मुख्य अतिथि मनीष गोयल, वरिष्ठ अधिवक्ता इलाहाबाद उच्च न्यायालय के अपर महाधिवक्ता ने परिणाम घोषित कर बताया कि वर्तमान समय मे सुशांत सिंह राजपूत के मामले में मीडिया ने अहम भूमिका निभाई है। बहुत से छुपे हुए साक्ष्यों को उजागर भी किया किन्तु मीडिया द्वारा ट्रायल सही नहीं है। मीडिया ट्रायल का प्रभाव न्याय प्रक्रिया पर भी पड़ रहा है।

मुख्य अतिथि ने बताया कि “उच्चत्तम न्यायालय ने हाल ही में अपने पुराने चल रहे प्रमुख निर्णयों को रद्द किया है, जैसे कि ‘राइट टू प्राइवेसी’। उन्होंने मुफ्त कानूनी सहायता संविधान के महत्वपूर्ण आदर्शों पर भी जोर डाला।

समारोह के विशिष्ट अतिथि कार्तिकेय सरन, अधिवक्ता, इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने विद्यार्थि जीवन मे ऐसी प्रतयोगिताओ के महत्व पर प्रकाश डाला तथा बताया की “विधि के विद्यार्थियों ने प्रतयोगिता के नियमो को उल्लंघन न करते हुए अपनी प्रतिभा तथा अपनी सोच को इस प्रतियोगिता के माध्यम से बखूबी दर्शाया है। अधिष्ठाता, विधि संकाय लखनऊ यूनिवर्सिटी प्रो. सीपी. सिंह ने अतिथियों का स्वागत किया एवं छात्र छात्राओं का उत्साहवर्धन किया। इस प्रतयोगिता के आयोजन में विधि संकाय विवि के छात्र अध्यक्ष सक्षम अग्रवाल, उर्मिका पांडेय तथा शिशिर यादव ने प्रमुख भूमिका निभाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here