टॉयलेट कथा: नेत्रहीन ससुर ने बकरियां बेचकर बनवाया बहु के लिए ‘इज्जतघर’

0
984

एटा 3 अक्टूबर। एटा में एक पत्नी ने घर नहीं छोड़ा बल्कि वहीं रहकर उसने टॉयलट बनवाकर ही दम लिया उसने ससुराल पक्ष के परिवार पर इतना दबाव बनाया की उसके गरीब नेत्रहीन ससुर को बकरियां बेचकर टॉयलेट बनवाना पड़ा।

यूपी के एटा में गुजरात के अहमदाबाद की रहने वाली शालिनी की शादी हुई तो ससुराल में टॉयलेट नहीं था. शालिनी ने अपने पति और ससुरवालों से टॉयलेट बनवाने की ज़िद की, ससुराल की आर्थिक स्थिति खराब थी लेकिन उसके बाद भी बहू की जिद पर नेत्रहीन ससुर ने अपनी दो बकरियां बेचकर घर में टॉयलेट बनवाया।

ये मिसाल है, पूरे हिंदुस्तान के सामने कि स्वच्छता के इस प्रण की राह में मुश्किलें जरुर आएंगी लेकिन अगर इरादा पक्का है तो मंजिल मिलेगी ही मिलेगी. अब आलम ये है कि शालिनी की जय जयकार उनके सास ससुर के साथ साथ पूरा गांव कर रहा है. इंडिया न्यूज़ भी सलाम करता है शालिनी को कि उन्होंने बदलाव की एक बयार एटा के अपने गांव में ला दी है।

शालिनी ने बताया कि पहले कुछ दिन तो उसने किसी तरह से गुजार लिए लेकिन जब उसको रोजाना शौच जाने मैं शर्म आई. मैंने अपने पति से कहा लेकिन कुछ नहीं हुआ तो घर का काम करना बंद कर दिया और जब पानी उसके सर से पार हो गया तो उसकी जिद पर उसके ससुर ने अपनी दोनों बकरी बेचकर उसके लिए शौचालय का निर्माण कराया. अब वह जिले के स्वच्छता अभियान की ब्रांड एंबेसडर है।

Please follow and like us:
Pin Share