1 साल में 80 हजार करोड़ डीबीटी से हुए किसानों के खातों में ट्रांसफर: मुख्यमंत्री

0
383

मुख्यमंत्री ‘इण्डिया न्यूज’ चैनल द्वारा आयोजित शौर्य सम्मान समारोह में सम्मिलित हुए

पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों को ‘शौर्य सम्मान’ से अलंकृत किया मुख्यमंत्री ने

 
लखनऊ: 17 मार्च, 2018: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास समाज की आवश्यकता है। राज्य सरकार ‘सबका साथ-सबका विकास’ की संकल्पना पर प्रदेश को प्रगति के पथ पर आगे ले जा रही है। राज्य के विकास की असीम सम्भावनाओं को मूर्त रूप देने के लिए नौजवानों, किसानों, महिलाओं पर केन्द्रित योजनाओं के साथ ढांचागत विकास की योजनाएं लागू की गई हैं। प्रधानमंत्री के नये भारत के संकल्प को साकार करने के लिए उत्तर प्रदेश का विकास आवश्यक है।
उन्होंने आज यहां ‘इण्डिया न्यूज’ चैनल द्वारा आयोजित शौर्य सम्मान समारोह के अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के प्रयासों से राज्य का किसान संतुष्ट और खुशहाल है। प्रदेश सरकार ने विगत एक वर्ष में लगभग 80 हजार करोड़ रुपये की धनराशि किसानों के बैंक खातों में डीबीटी के माध्यम से अंतरित की है। राज्य सरकार द्वारा 37 लाख मीट्रिक टन गेहूं तथा 43 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है। रबी विपणन वर्ष 2018-19 के लिए गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित कर दिया गया है।
 उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों के लगभग 25 हजार करोड़ रुपये के बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान सुनिश्चित कराया गया है। वर्तमान पेराई सत्र के भी लगभग 16 हजार करोड़ रुपये के गन्ना मूल्य का भुगतान करा दिया गया है। लम्बित सिंचाई परियोजनाआंे को सम्पूर्ण धनराशि देकर समयबद्ध से पूरा कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के प्रधानमंत्री जी के संकल्प को किसानों को आधुनिक तकनीकी से जोड़कर और आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराकर सम्भव किया जा सकता है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेश की पुलिस सेवा के अनेक अधिकारियों/कर्मचारियों को ‘शौर्य सम्मान’ से अलंकृत किया। ‘आउटस्टैण्डिंग एक्ट आॅफ ब्रेवरी’ के अन्तर्गत शहीद कांसटेबल श्री अंकित तोमर, शहीद सबइंस्पेक्टर श्री जय प्रकाश सिंह के परिजनों तथा गोरखपुर के इंस्पेक्टर श्री सत्य प्रकाश सिंह को सम्मानित किया गया। पेचीदा अपराधों को सुलझाने के लिए क्राइम सेल के इंस्पेक्टर श्री अजय कुमार शर्मा तथा एस0टी0एफ0 वाराणसी के इंस्पेक्टर श्री शैलेश प्रताप सिंह को सम्मानित किया गया। मानव जीवन की रक्षा के लिए इंस्पेक्टर श्री भूपेन्द्र सिंह तोमर, उत्कृष्ट ट्रैफिक मैनेजमेन्ट के लिए इंस्पेक्टर श्री पंकज सिंह को सम्मानित किया गया। इसके अतिरिक्त जनपद गौतमबुद्धनगर के पुलिस अधीक्षक श्री एके सिंह, आगरा के सबइंस्पेक्टर श्री विशाल शर्मा, कानपुर के कांसटेबल श्री भुवनेश कुमार, महराजगंज की सुश्री शीला यादव तथा इंस्पेक्टर श्री शम्भूनाथ तिवारी को भी सम्मानित किया गया।
शौर्य सम्मान की स्पेशल कैटेगरी के अन्तर्गत जनपद शामली के पुलिस अधीक्षक डाॅ. अजय पाल, आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक श्री अजय साहनी, मुजफ्फरनगर के पुलिस अधीक्षक श्री अनन्त देव को सम्मानित किया गया। लखनऊ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री दीपक कुमार को बेस्ट टीम लीडर का शौर्य सम्मान दिया गया। स्टैªटेजिक प्लानिंग एण्ड लीडरशिप के अन्तर्गत एडीजी मेरठ श्री प्रशान्त कुमार तथा एडीजी लखनऊ श्री आनन्द कुमार को सम्मानित किया गया। पुलिस महानिदेशक श्री ओपी सिंह को लाइफ टाइम अचीवमेन्ट शौर्य सम्मान से अलंकृत किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here