रक्त बैंक डायरेक्टरी से जरूरतमंद लोगों को मिलेगी मदद: योगी

0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दीन दयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष के क्रम में आज गोरखपुर में आयोजित रक्तदान शिविर का आज उद्घाटन किया एवं रक्त समूह निर्देशिका ब्लड बैंक डायरेक्टरी का लोकार्पण करते हुए कहा कि देश में प्रतिदिन 120 लाख युनिट रक्त की जरूरत होती है लेकिन मात्र 60 लाख यूनिट रक्त उपलब्ध हो पाता है। ऐसी स्थिति में स्वैच्छिक रक्तदान से ही इसकी भरपायी हो सकती है।
आदित्यनाथ ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए रक्तदाताओं एवं डाइरेक्टरी में शामिल सूची के लोगों को बधाई देते कहा कि यह पुनीत कार्य है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सूची में रेयर ग्रुप के डोनर भी हैं जिनके नाम, पते एवं मोबाइल नंबर है जिससे जरूरतमंद लोगों को मदद मिलेगी। साथ ही साथ पेशेवर रक्तदाताओं के चंगुल से भी बचाव होगा।
इससे पहले आज लखनउ में भाजपा प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने इस ब्लड बैंक डायरेक्टरी के बारे में बताया कि भारतीय जनता पाटी ने पूरे प्रदेश में चलाए गए रक्त जांच अभियान के बाद एक लाख 35 हजार भाजपा कार्यकर्ताओं की ब्लड डायरेक्टरी तैयार कर ली है।
उन्होंने बताया कि डायरेक्टरी में कार्यकर्ताओं के ब्लड ग्रुप और उनके नंबर लिखे हैं। ये ब्लड डायरेक्टरी किसी भी वक्त जरूरतमंदों के काम आएगी। सरकारी अस्पतालों से समन्वय करके रक्तदान का काम पूरा किया जाएगा। इस ब्लड डायरेक्टरी से जरूरतमंदों को हर समय मदद मिल सकेगी। खासतौर पर उन गरीब लोगों को जिनके पास परेशानी के वक्त कोई ब्लड डोनर नहीं होता और उन्हें खासी परेशानी उठानी पडती है। दुनिया में ये शायद पहली बार हो रहा है जब किसी राजनीतिक दल ने आम जनता की मदद के लिए इस तरह का अभियान चलाया है और इसका फायदा हर किसी को मिलेगा।
उन्होंने बताया कि प्रदेश भाजपा की ओर से पिछले छह दिनों के दौरान रक्तजांच शिविर चलाया गया था। इस कार्यक्रम को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने खासा उत्साह दिखाया। प्रत्येक मण्डल पर सौ कार्यकर्ताओं से रक्तजांच कराया गया है। इस तरह कुल 1 लाख 35 हजार कार्यकर्ताओं की ब्लड डायरेक्टरी तैयार की गई। इस डायरेक्टरी में कार्यकर्ताओं की पूरी जानाकरी दी गई है। उनका संपर्क नम्बर भी उपलब्ध कराया गया है। ये डायरेक्टरी भारतीय जनता पार्टी की तरफ से प्रदेश की जनता को समर्पित की जा रही है।