बालकृष्ण इंडस्ट्रीज ने मनाया किसान दिवस

0
731
किसानो को शिक्षित करने और उत्पादकता को बढ़ाने हेतु बीकेटी क्लिनिक्स किया लॉन्च
बागपत, 20 दिसंबर, 2018:  बालकृष्ण इंडस्ट्रीज लिमिटेड (बीकेटी) ने उत्तर प्रदेश के बागपत जिले, जिसे मूल रूप से ‘व्याघ्रप्रस्थ’ या बाघों की धरती के रूप में जाना जाता है, में किसान दिवस मनाया। बीकेटी, भारत की एक प्रमुख ऑफ-हाइवे एवं ट्रैक्टर टायर निर्माता है। किसान दिवस हर वर्ष 23 दिसंबर को मनाया जाता है। राष्ट्रीय किसान दिवस, भारत के पूर्व प्रधानमंत्री, श्री चौधरी चरण सिंह के सम्मान में मनाया जाता है।
आधुनिक कृषि के लिए देखभाल, ध्यान एवं कई विभिन्न आवश्यकताओं की पूर्ति जरूरी है। बीकेटी का लक्ष्य किसान के काम को यथासंभव आरामदेह एवं सुरक्षित बनाना और लगातार उत्पादकता को बढ़ाना है। इसलिए, कंपनी नजदीक से मुख्य समस्याओं पर नजर रखती है और उनका ठोस समाधान तलाशने पर जोर देती है।
इस प्रकार, कंपनी ने आगरा के निकट मथुरा और सदाबाद में ‘बीकेटी क्लिनिक्स’ शुरू किये। इन क्लिनिक्स का उद्देश्य किसानों को उनके ट्रैक्टर्स के परिचालन एवं रखरखाव के बारे में प्रशिक्षित करना है, ताकि उनके दैनिक जीवन में उत्पादकता, कुशलता एवं फसल पैदावार बढ़ सके। इस क्लिनिक में ऐसे व्यापक तरह के विषय शामिल होंगे जो किसानों के जीवन पर प्रभाव डालते हैं, जैसे-मृदा परिरक्षण, जैव-विविधता, खाद्यान्न सुरक्षा और प्रेसिजन फार्मिंग एवं अन्य।
किसान दिवस के अवसर पर, सम्राट पृथ्वीराज चौहान डिग्री कॉलेज बागपत में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में श्री पी.सी. जायसवाल, चीफ डेवलपमेंट ऑफिसर, बागपत जिला, डॉ. प्रवीण मलिकजी – निदेशक सी.सी.एस.- नेशनल इंस्टीट्युट ऑफ एनिमल हेल्थ, डॉॅ. गजेन्द्र पाल – हेड – कृषि विज्ञान सेंटर और श्री राजीव कुमार – हेड (एग्रि सेल्स) – घरेलू कारोबार – बीकेटी टायर्स उपस्थित रहे।
श्री राजीव कुमार ने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि ‘बीकेटी क्लिनिक्स’ के लॉन्च के साथ हम किसानों की मदद कर सकेंगे और इसकी घोषणा करने के लिए किसान दिवस से बेहतर दिन कौन हो सकता है। इस यादगार अवसर पर शामिल होने का मुझे बेहद गर्व है। इस पहल के जरिए, हम ट्रैक्टर के संपूर्ण रखरखाव के बारे में जानकारी देना चाहते हैं और इस प्रकार, किसानों को उनकी दैनिक उत्पादता बढ़ाना चाहते हैं, उन्हें अधिक कुशल बनाना चाहते हैं। यह हमारे लिए महज एक छोटा कदम है, चूंकि हमें उम्मीद है कि हम अगले वर्ष इसे पूरे देश में फैला सकेंगे।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here