अपस्टॉक्स ने लांच की एप्प शेयर बाजार के कारोबार की जानकारी हिन्दी में

0
704
file photo
  • मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में मिली लोकप्रियता
  • हिन्दी मोबाइल प्लेटफॉर्म लांच के बाद कारोबार में 20 प्रतिशत का हुआ इजाफा
  • नवम्बर के अन्त तक इस प्लेटफॉर्म को गुजराती में लांच करने की योजना

लखनऊ, 21 नवम्बर, 2018: भारत के डिस्काउन्ट ब्रोकर अपस्टॉक्स ने हाल ही में स्टॉक ट्रेडिंग के लिए अपनी हिन्दी ऑनलाइन एवं मोबाइल एप्लीकेशन लांच की है। यह उन लोगों के लिए और भी आसान होगी जो लोग हिन्दी भाषी है और वे अपनी स्वयं की भाषा में स्टॉक मार्केट ट्रेड को लॉक कर सकेगे।

इस बारे में अपस्टॉक्स के सीईओ और सह संस्थापक रविकुमार ने कहा “गत माह हमारी हिन्दी एप्प लांच किए जाने के बाद केवल एक माह की अवधि में हमारी एप्प का उपयोग करने वालों में 12 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इस हिन्दी एप्प को लांच करने के बाद हमने देखा कि 20 प्रतिशत और ट्रेडर्स इससे जुड़े हैं। वर्ष 2011 में हुई जनगणना के अनुसार भारत की आबादी का 44 प्रतिशत हिन्दी भाषी है और यह उनकी मातृभाषा है।

अपस्टॉक्स मोबाइल में हिन्दी सुविधा और ऑनलाइन ट्रेडिंग की सुविधा शामिल करने के पीछे हमारा लक्ष्य देश के हिन्दी भाषी क्षेत्र समेकित विकास को प्राप्त करना है, और उन लोगों को इस योग्य बनाना है जो अग्रेजी के ज्ञान की कमी की वजह से स्टॉक मार्केट को छोड़ चुके थे और शेयर बाजारों में प्रतिभागिता नहीं कर रहे थे। अपस्टॉक्स की हिन्दी सुविधा का पहले से ही उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में भारी संख्या में लोग इस्तेमाल शेयर बाजार के कारोबार में इस्तेमाल कर रहे हैं। रवि ने कहा कि नवम्बर के अंत तक इस एप्प को गुजराती भाषा में लांच करने की योजना है।

अपस्टॉक्स एक ऑनलाइन ब्रोकरेज सेवा है, जो एक बटन के क्लिक पर वास्तविक समय व्यापार को संभव बनाता है। व्यापारी सीधे मोबाइल या कंप्यूटर डिवाइस का उपयोग करके अपने खाते के माध्यम से ऑनलाइन व्यापार में भाग ले सकते हैं और ट्रेडों की सुविधा के लिए किसी तीसरे पक्ष या ब्रोकर पर भरोसा नहीं करना पड़ता है। वर्तमान में भारत में, स्टॉक मार्केट का बड़ा हिस्सा अपस्टॉक्स जैसे डिस्काउंट ब्रोकरेज द्वारा सुविधाजनक । ऑनलाइन चौनलों के माध्यम से होता है। हालांकि अपस्टॉक्स में एक मजबूत कॉल और व्यापार सेवा है,

अपस्टॉक्स के सभी ऑर्डर का लगभग 98.5 प्रतिशत अपने वेब और मोबाइल ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑनलाइन रखा जाता है। केवल सभी व्यापारों का लगभग 1.5 प्रतिशत अपने कॉल और ट्रेड डेस्क के माध्यम से रखा जाता है। एक्सचेंजों के दैनिक कारोबार के लिए अपस्टॉक्स का योगदान पिछले वर्ष के मुकाबले लगभग तीन गुना बढ़ गया है जो कि 5,000 -6,000 करोड़ रुपए प्रति दिन से लेकर 14,000 -18,000 करोड़ रूपय हो गया है।

रवि का कहना था कि भारतीय बाजार अभी भी काफी हद तक टैप किया गया है, खासकर जब पूंजी बाजार भागीदारी की बात आती है। हमारा लक्ष्य भारत में एक दूरस्थ शहर में भी जब भी और जहां चाहें स्टॉक खरीदने और बेचने के लिए एक व्यापारी या निवेशक को तैयार करना है। ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर क्षेत्रीय भाषा क्षमता जोड़ना अपस्टॉक्स के लिए उस दिशा में एक कदम है।”

वर्तमान में, इक्विटी बाजार में प्रवेश अभी भी बेहद कमजोर है और भारत में बहुत कम है, इस बात के बावजूद कि विभिन्न भारतीय कंपनियों ने पिछले कुछ वर्षों में देखा है कि भारत में कुल आबादी का केवल 2 से 3 प्रतिशत शेयर बाजारों में निवेश करता है। सितंबर 2018 के लिए सेबी बुलेटिन मासिक रिपोर्ट के अनुसार, शीर्ष 5 शहरों में एनएसई के नकद सेगमेंट के 80 प्रतिशत से अधिक कारोबार में योगदान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here