चुटकुले: हे भगवान, तू फिर आ गया!

0
207
Wife: जो आदमी रोज-रोज शराब पीकर घर आए…
उसके लिए मेरे मन में कोई हमदर्दी नहीं है।
Husband: जिसको रोज शराब मिल जाए…
उसे तुम्हारी हमदर्दी की जरुरत भी नहीं।
…………………………………..
एक मच्छर परेशान बैठा था,
दूसरे ने पूछा, “भाई क्या हुआ तुझे?”
पहला बोला, “यार गज़ब हो रहा है।
चूहेदानी में चूहा,
साबुनदानी में साबुन,
मगर मच्छरदानी में आदमी सो रहा है।”
……………………………………
दो चूहे पेड़ पर बैठे थे।
नीचे से एक हाथी गुजरा।
एक चूहा हाथी पर गिर गया।
तभी दूसरा चूहा बोला…
“दबा कर रख साले को,
मैं भी आता हूँ”।
…………………..
काफी दिनों बाद सांता पार्क में घूमने गया।
घर लौटकर उसने अपनी पत्नी को बताया –
जानती हो लोग मुझे भगवान मानने लगे हैं।
पत्नी – ये तुमने कैसे जाना।
संता – जब मैं पार्क में गया था तो वहां पर औरतें मुझे देख कर बोली…
“हे भगवान, तू फिर आ गया।”
……………………………….
गाँव में मेला लगा हुआ था।
एक मेंढक से रहा नहीं गया।
वह अपना भविष्य बताने वाले ज्योतिषी के पास जा पहुँचा।
मेंढक – मेरा क्या भविष्य है?
ज्योतिषी – एक सूंदर नवयुवती,
तुम्हारे अंग-अंग को गौर से निहारती हुई,
जगह-जगह स्पर्श करेगी।
मेंढक – अच्छा, कब? कहाँ?
ज्योतिषी – अगले सप्ताह, पास वाले कॉलेज के बायोलॉजी लैब में।
……………………………………………………………
पत्नी सो रही थी।
पति ने देखा उसके पैरों के पास एक नागिन गुजर रही है।
पति धीरे से बोला, “डस ले, … डस ले।”
नागिन – कमीने चरण स्पर्श करने आई हूँ, गुरु देवी है हमारी।
……………………………………..
दोस्त – तेरी बीवी ने तुझे घर से क्यों निकाला।
पठान – साले तेरे कहने पर उसे चैन गिफ्ट की थी, इसीलिए निकाला।
दोस्त – चांदी की थी क्या?
पठान – नहीं साइकिल की।
………………………….
ट्रेन चली तो फ़ौजी एक डिब्बे में चढ़ गया।
टीटी बोला – हैल्लो, तुमको नज़र नहीं आता ये लेडीज डिब्बा है।
फ़ौजी – सॉरी, मुझे लगा आप मर्द हो।
……………………………………………..
एक पंडित जब अपने रिश्ते के लिए तस्वीर खिंचवा रहा था,
तो बगल में थोड़ा पीछे खड़ा गधा भी तस्वीर में आ गया।
तब पंडित ने ये लिख कर तस्वीर भेजी….
“मैं दाहिनी तरफ खड़ा हूँ।”
…………………………………….
रामु अपनी रेहड़ी पर जलेबियाँ बेचने के लिए जोर-जोर से चिल्ला रहा था…
करेले ले-लो करेले! करेले ले-लो करेले!
ग्राहक – पर ये जलेबी है।
रामु – आराम से बोल, मक्खियाँ आ जाएँगी।
………………………………………………
अगर बीवी अपनी साड़ी का पल्लू अपनी कमर में टांग ले तो समझो...
या तो घर का काम निपटायेगी या पति को।
………………………………………….
टीचर – हिम्मत-ए-मर्दा, मदद-ए-ख़ुदा इसका मतलब बताओ?
रामु – जो गुस्सैल बीवी के सामने मर्द बनने की कोशिश करता है…
फिर तो बस ख़ुदा ही उसकी मदद कर सकता है।
………………………………………..
BF – मुझे तेरे दिल मे नहीं दिमाग मे जगह चाहिए।
GF – ऐसा क्यो?
BF – दिल में तो पहले ही भीड़ ज्यादा है और दिमाग तेरा खाली और जितनी खाली जगह उतना आराम…
…………………………….
पप्पू अपनी बीवी की साथ स्टेशन पर ट्रेन का इंतज़ार कर रहा था।
तभी एक गाड़ी आई, जिस पर लिखा था, “बॉम्बे मेल”।
पप्पू भाग कर ट्रेन में चढ़ गया और अपनी बीवी को बोला।
जब बॉम्बे फीमेल आएगी, तुम उसमें आ जाना।
……………………………………
घण्टू ने कॉलेज की एक लड़की को, “आई लव यू” बोल दियाआ।
लड़की हैरान हो गयी।
धन्टू फिर बोला, अब तुम भी मुझे बोलो।
लड़की – मैं अभी जाकर सर को बोलती हूँ।
घण्टू – सर को मत बोलना पगली, वो तो शादी-शुदा है।
…………………………………………………..
सास अपने दामाद को फ़ोन पर बोली…
कल तुम्हारे साले के लिए लड़की देखने जाना है, तुम आज शाम को ही आ जाओ।
दामाद: आप लोग ही देख लो, मुझे तो खुद के फैसले का पछतावा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here