CM ने स्वाइन फ्लू से निपटने के लिए, SGPGI की तैयारियों का जायजा लिया

0
794
चिकित्सक मरीजों के इलाज में अनावश्यक जांचें तथा दवाइयां न लिखकर संस्थान में उपलब्ध संसाधनों का समुचित उपयोग करें 
लखनऊ: 2 अगस्त, 2017, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज यहां संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान का निरीक्षण किया। उन्होंने सीसीएम (क्रिटिकल केयर मेडिसिन), डायलिसिस यूनिट और न्यू ओपीडी के निरीक्षण के साथ-साथ स्वाइन फ्लू के उपचार के लिए बनाए गए आइसोलेटेड वार्ड को भी देखा। उन्होंने स्वाइन फ्लू के मरीजों को अच्छी इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश देते हुए कहा कि इस रोग के प्रसार को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाने चाहिए।
योगी जी ने स्वाइन फ्लू से निपटने के लिए संस्थान द्वारा की गई तैयारियों के साथ-साथ इसके लिए तैनात किए गए पैरा मेडिकल स्टाफ द्वारा मरीजों के साथ किए जा रहे व्यवहार एवं स्टाफ द्वारा बरती जा रही सावधानी के सम्बन्ध में भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने एसजीपीजीआई को प्रदेश का उच्चस्तरीय चिकित्सा संस्थान बताते हुए वहां की सुविधाओं में वृद्धि किए जाने पर बल दिया, जिससे प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आने वाले मरीजों को इलाज की और बेहतर सुविधा उपलब्ध हो सके।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के गरीब और कमजोर तबकों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। चिकित्सक मरीजों के इलाज में अनावश्यक जांचें तथा दवाइयां न लिखकर संस्थान में उपलब्ध संसाधनों का समुचित उपयोग करें। चिकित्सक यह सुनिश्चित करें कि मरीजों को अच्छी चिकित्सीय सुविधाएं कम खर्च में उपलब्ध हो सके।
इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री आशुतोष टंडन, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ. अनीता भटनागर जैन, संस्थान के निदेशक प्रो. राकेश कपूर भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here