गर्मी में बहुत ठंडा पानी न पीजिये, इससे पाइल्स और आंत के रोग होने का खतरा

3

गला तर करने के लिए गर्मियों में लोग खूब ठंडा पानी पीते हैं लेकिन ज्यादा ठंडा पानी पीने से हमें नुकसान भी पहुंच सकता है। दरअसल इससे आंत रोग और पाचन क्रिया में परेशानी आ सकती है। इसलिए गर्मियों में बहुत ठंडा पानी पीने से हमेसा बचना चाहिए। यही नहीं एकदम बाहर गर्मी से आने के बाद तो बिल्कुल भी ठंडा पानी न पिएं। इससे सर्दी झुकाम का खतरा हो सकता है। इसी नुकसान के बारे में बता रहे हैं आयुर्वेद के जानकार मदन जोगी।

क्या हैं बहुत ठंडा पानी पीने के नुकसान

  • ज्यादा ठंडा पानी शरीर के मल को जमा देता है। इससे पाइल्स और आंत के रोग होने का खतरा बना रहता है। इसलिए ज्यादा ठंडा पानी हमें गर्मियों में नहीं पीना चाहिए।
  • अधिक ठंडा पानी पीने से शरीर की कैलोरीज़ ज्यादा बर्न होती है और पाचन शक्ति बाधित होती है। ठंडा पानी पीने के बाद शरीर को खाना पचाने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है।
  • ठंडा पानी पीने से शरीर की रक्त वाहिकाएं सिकुड़ जाती हैं। रक्त वाहिकाओं के सिकुड़ जाने से पाचन की प्रक्रिया धीमी पड़ जाती है। जिससे भोजन की पाचन क्रिया सही तरीक से नहीं हो पाती।
  • ठंडा पानी पीने से शरीर में जाने वाले खाद्य पदार्थ के सारे पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं। शरीर का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस हो जाता है। ऐसे में जब आप कोई ठंडी चीज़ पीते हैं तो उससे शरीर पूरी तरह से ठंडा हो जाता है और पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं।

3 COMMENTS

  1. Hi there I am so grateful I found your website, I really found you by mistake, while I was browsing on Aol for something else, Regardless
    I am here now and would just like to say many thanks for a incredible
    post and a all round entertaining blog (I also love the theme/design),
    I don’t have time to read through it all at the moment but I have book-marked it and
    also included your RSS feeds, so when I have time I will be back to read a lot more, Please
    do keep up the great job.

  2. Terrific work! That is the type of info that should
    be shared across the net. Disgrace on the search
    engines for no longer positioning this put up higher!
    Come on over and consult with my web site . Thank you =)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here