गठिया रोग में लाभकारी हैं हरी पत्तेदार सब्जियां

0
48

सर्दियों में गठिया की समस्या बढ़ जाती है, लेकिन अगर हम अपने खानपान में थोड़ी सावधानी बरतें तो इससे राहत पा सकते हैं। गठिया रोग के लक्षण और जोड़ों के दर्द से मुक्ति पाने में हरी सब्जियां काफी उपयोगी हैं। खासकर गहरे हरे रंग की और पत्तेदार सब्जियां गठिया के दर्द को कम करती हैं। एक रिसर्च में सामने आया है कि ब्रोकोली का डेली इस्तेमाल धीरे-धीरे बढ़े रहे गठिया के रोग को काबू करने में सक्षम है।

गठिया के प्रभाव को कम करती हैं ये सब्जियां :

ब्रोकोली, पालक, पत्तागोभी, फूल गोभी, अदरख और चुकंदर इसके प्रभाव को कम करती हैं। इसके अलावा हल्दी और विटामिन सी के फल जैसे संतरा, नींबू, किन्नू और अंगूर फलों का सेवन कर गठिया के दर्द से राहत पा सकते हैं।

गठिया के लक्षण :

थकावट लगना : गठिया होने के कुछ महीने पहले ही रोगी थकावट और बीमार रहने जैसी समस्या देखने को मिल सकती है। इसके साथ हाथों या पांव में अकड़न देखने को मिल सकती है।

जोड़ों में दर्द: गठिया का सबसे आम लक्षण है जोड़ों में दर्द होना। दो चार दिन में यह दर्द शरीर के कई जोड़ों में देखने को मिल सकता है, लेकिन गठिया में जोड़ों का सबसे आम दर्द है अंगुलियों और कलाइयों का दर्द। कंधों, घुटनों और पैरों में भी दर्द होता है।

जोड़ों में सूजन: गठिया के शुरुआती लक्षणों में जोड़ों में हल्की सूजन देखने को मिल सकती है। बाद में बुखार भी आ सकता है।

चलने में दिक्कत होना: शरीर में जलन या बुखार के बाद गठिया के रोगी को चलने में काफी दिक्कत होती है। आप चलने की कोशिश भी करते हैं तो कम दूरी तक ही चल पाते हैं।

ये बरते सावधानी: 

  • फास्ट फूड, जंक फूड और डिब्बाबंद खाना खाने से बचें।
  • टलहना बंद ना करें
  • व्यायाम जरूर करें।
  • वसायुक्त भोजन का प्रयोग ना करें।

गठिया के घरेलू उपाय :

  • जैतून के तेल की मालिश करने से गठिया के दर्द में राहत मिलती है।
  • अदरक के सेवन से भी गठिया रोग कम होता है।
  • गिलोय का रस पीने से गठिया रोग में सूजन और दर्द दूर होता है।
  • देसी घी के साथ गिलोय का रस लेने से गठिया से मुक्ति मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here