यदि आपके बच्चे खा रहे हैं मीठी सुपारी तो हो जाएं सावधान!

0
412

समाज में सदियो से शुभ कार्यों में सुपारी का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन आपको ये जानकर हैरानी हो सकती है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक भी बताया है। वही दूसरी तरफ किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के पब्लिक हेल्थ डेन्टिस्ट्री विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ विनय कुमार गुप्ता ने एक मीडिया इंटरव्यू के दौरान बताया कि हमारे देश में आज मीठी सुपारी का इस्तेमाल धड़ल्ले 6 साल की उम्र से आपका बच्चा खा रहा स्वीटी सुपारी तो दे विशेष ध्यान!

यदि आप भी रखते हैं स्वीटी सुपारी का शौख तो हो जाये सावधान:

डॉ गुप्ता के मुताबिक आज के समय में मीठी सुपरी लोगों का एक बेहतरीन शौक बन गया है। मुख्य बात तो यह हैं कि यह दो रूपये के बिकने वाले पाउच स्कूल व अस्पताल के बाहर और स्टेशनरी की दुकानों पर आसानी से उपलब्ध हैं। जिसमें की सबसे ज्यादातर 6 साल के बच्चों से लेकर बड़ी उम्र के लोग भी इसका सेवन कर रहें हैं लेकिन वह नही जानते की यह मीठी सुपारी उनके शरीर के लिए सबसे ज्यादा हानिकारक हैं।

घटिया किस्म के होते हैं पदार्थ:

केजीएमयू के पब्लिक हेल्थ डेन्टिस्ट्री विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ विनय गुप्ता के मुताबिक मीठी सुपारी बनाने में एक प्रकार से सड़ी हुई सुपारी का इस्तेमाल करतें हैं। इसे पिपरमिन्ट व अन्य कई पादार्थों को मिलाकर बनाया जाता है। हालांकि जो लोग इसका सेवन कर रहें हैं। वह गम्भीर समस्याओं से ग्रसित हो रहे हैं।

मुंह में हो जाता म्यूकस फाइब्रोसिस: मुंह के ना खुलने को म्यूकस फाइब्रोसिस कहा जाता हैं। इसका सबसे बड़ा कारण सुपारी उत्पाद का सेवन करना होता हैं। यदि आपका मुंह नही खुलेगा तो दांतों और मसूड़ों की सफाई कैसे होगी। मुंह नहीं खुलना कैंसर से ठीक पहले के लक्षण हैं। दांतो पर लगा इनेमल घिस जाता हैं और दांत संवेदनशील बन जाते हैं। साथ ही दांतो के पेरिओडोंटल टिश्यू व दांत की हड्डी क्षतिग्रस्त हो जाती हैं

और दांत ढ़ीले हो जाते हैं। कई तरह के स्वास्थ्य संकट हो सकते पैदा डॉ विनय के मुताबिक इसके इस्तेमाल से कैंसर होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। इसे पान मसालों में से हटा दिया जाना चाहिए। सुपारी खाने से कई तरह के स्वास्थ्य संकट पैदा हो सकते हैं।

1. कैंसर सुपारी का सेवन करने से कैंसर होने का खतरा बहुत अधिक बढ़ जाता है। सुपारी में वो सभी तत्व मुख्य रूप से पाए जाते हैं जो कैंसर के लिए उत्तरदायी होते हैं। इससे सबसे अधिक मुंह के कैंसर के होने का खतरा बढ़ जाता है।

2. दिल संबंधी बीमारियां सुपारी खाने से हार्ट से जुड़ी कई तरह की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही ये मोटापा भी बढ़ाता है।

3..दांत खराब हो जाना नियमित रूप से सुपारी खाने से मसूड़ों ढीले पड़ जाते हैं और दांतों का इनेमल भी प्रभावित होता है। समय रहते अगर सुपारी खाना नहीं छोड़ा गया तो दांत हमेशा के लिए लाल और बाद में काले हो जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here