नेपाल में दिखे ‘बिग फुट’ के निशान, येति युग की वापसी पर छिड़ी बहस

0
154

नई दिल्ली, 04 मई 2019: इंडिया में चुनाव के बीच एक वायरल हुयी तस्वीर ने कुछ समय के लोगों का ध्यान दूसरी तरफ डाइवर्ट कर दिया। दरअसल मामला ही कुछ ऐसा था जिसपे सबकी निगाह जाना स्वाभाविक था! बता दें कि नेपाल गए सेना के पर्वतारोही दल को बर्फ पर पैरों के बड़े निशान मिले हैं। जिसे बिग फुट से जोड़कर देखा जा रहा है।

मीडिया खबरों के अनुसार सेना ने ट्विटर के जरिए इन तस्वीरों को साझा करते हुए कहा कि यह पौराणिक जानवर के फुटप्रिंट है। यह निशान नेपाल के लंग मार्ले खारघर में मकालु बेस कैंप के पास 9 अप्रैल को पाए गए हैं। यह जगह काठमांडू से 180 किलोमीटर और एवरेस्ट से 40 किलोमीटर दूर है, मालूम हो कि सेना का यह पर्वतारोही दल 27 मार्च को नई दिल्ली से रवाना हुआ था। दल ने बताया कि अब तक केवल मकालु बारुन नेशनल पार्क के पास ही येति दिखने जैसी घटनाएं सामने आई थी, इन फोटो को जांच के लिए विशेषज्ञों के पास भेजा गया है रक्षा मंत्रालय ने आर्मी से रिपोर्ट मांगी है।

विशेषज्ञों ने नकारा दावा:

देहरादून वाइल्डलाइफ इंस्टीट्यूट आफ इंडिया के डीन जी एस रावत ने कहा कि सेना को मिले फुटप्रिंट के आधार पर येति होने की बात नहीं की जा सकती। यह किसी जानवर के भी पैरों के निशान हो सकते हैं। हिम मानव कोरी कल्पना है। उन्होंने कहा कि सेना को और सुबूत जुटाने चाहिए थे। उन्हें देखना चाहिए था कि वह निशान कहां से शुरू होकर कहां खत्म हो रहे हैं। सेना को टीम सेना की टीम को अपने साथ एक वैज्ञानिक को ले जाना चाहिए था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here