भारतीय जीवन शैली, अनुसंधान और स्वास्थ्य

42
12780
दिलीप अग्निहोत्री
भारत में प्राचीन काल से ही स्वास्थ के प्रति चेतना और जागरूकता रही है। विश्व के अनेक हिस्सों में जब सभ्यता का विकास नहीं हुआ था, भारत में आयुर्वेद की रचना हो चुकी थी। पातंजलि ने योगशास्त्र की रचना की थी। धन्वंतरि और चरक का चिकित्सा शास्त्र भी प्रिसिद्ध था।
यह कहा जा सकता है कि स्वास्थ्य जागरूकता भारतीय जीनव शैली में समाहित थी। समय के साथ यह जीवन जीवन शैली बदलती रही। कुछ दशक पहले तक मोटा अनाज प्रचलित था। ये सब छूटता गया। अब तो पाश्चात्य सभ्यता का प्रभाव बढ़ रहा है। उनके यहां प्रचलित खाद्य सामग्री को अपनाना फैशन की पहचान बनता जा रहा है। भारत और यूरोप की जलवायु में बहुत अंतर है। लेकिन इस बात पर विचार नहीं किया गया कि हमारे लिए क्या उचित है। अंधानुकरण अनेक समस्याएं बढा रहा है। कम उम्र में अनेक बीमारियां हो रही है। मानसिक तनाव और एकाकी परिवार व्यवस्था के भी नुकसान हो रहे है। इन सबके बीच अंतरराष्ट्रीय योग दिवस एक महत्वपूर्ण पहल थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्रसंघ में योग दिवस का प्रस्ताव किया। इस पर सबसे कम समय में सर्वाधिक देशों के समर्थन का रिकार्ड बन गया। इक्कीस जून अब अंतरराष्ट्रीय योग दिवस बन गया। विश्व इसकी वैज्ञानिकता को स्वीकार किया गया है।
हृदय रोग से भी बड़ी संख्या लोग परेशान हो रहे है। ऐसे में उचित आहार व योग से लेकर स्वास्थ सेवाओं और अनुसंधान की आवश्यकता है। इसी प्रकार के विचार उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और देश के वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञों ने व्यक्त किये।  संजय गांधी स्नातकोत्तर आर्युविज्ञान संस्थान, लखनऊ में कार्डियोलाॅजिकल सोसायटी आफ इण्डिया द्वारा तीन दिवसीय सम्मेलन का उद्घाटन उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने  किया था। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के राज्यपाल  राम नाईक, कार्डियोलाॅजिकल सोसायटी आफ इण्डिया के अध्यक्ष डा केसी गोस्वामी, निदेशक संजय गांधी स्नातकोत्तर आर्युविज्ञान संस्थान के निदेशक डा राकेश कपूर सहित देश एवं विदेशों से आये हृदय रोग विशेषज्ञों, सोसायटी के वरिष्ठ पदाधिकारीगण सहित अन्य विशिष्टजन उपस्थित थे।
उप-राष्ट्रपति ने कहा कि स्वस्थ राष्ट्र ही सम्पन्न एवं समृद्ध राष्ट्र बन सकता है। स्वास्थ्य सेवाओं में अधिक निवेश की आवश्यकता है। वर्तमान समय की जीवन शैली, भागा दौड़  की जिन्दगी, खान पान में बदलाव तथा शारीरिक परिश्रम का न होना अनेक बीमारियों का मुख्य कारण है। इलाज के साथ-साथ रोगों से कैसे बचा जाय, इस पर भी जोर देने की आवश्यकता है। बड़े अस्पताल केवल शहरी क्षेत्र तक सीमित हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में अद्यतन चिकित्सा सुविधा पहुंचाने की ओर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। सरकार, चिकित्सक और मीडिया समाज में जागरूकता फैलाने में अग्रणी भूमिका निभा सकते हैं।
उप राष्ट्रपति ने कहा कि ईश्वर के बाद लोग चिकित्सकों को स्थान देते हैं। चिकित्सीय सेवा कमीशन नही मिशन के भाव से करें। चिकित्सक अपनी सेवाएं प्रदान करने में आनन्द महसूस करें। पैंतीस वर्ष से कम आयु के पच्चीस प्रतिशत लोग हृदय रोग से ग्रसित हो रहे हैं। जंक फूड और पश्चिमी रहन सहन अधिकांश बीमारी की जड़ है। रोगी सेवा में ज्यादा समय देना महा आनन्द का कार्य होना चाहिए। विशेषज्ञ अनुसंधान के माध्यम से अपने ज्ञान का वर्द्धन करें। योग, शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। विदेशों में योग के केन्द्र खुले हैं।
राज्यपाल राम नाईक ने उपस्थित लोगों को भारतीय नववर्ष की बधाई देते हुए कहा कि भारतीय नववर्ष सभी के जीवन में सुख और समृद्धि का संचार करे। राज्यपाल ने कहा कि वह  कार्डियोलाॅजी के बारे में ज्यादा चर्चा नहीं कर सकते विख्यात उर्दू शायर मिर्जा ग़ालिब के एक शेर दिल ए नादां तुझे हुआ क्या है, आखिर इस दर्द की दवा क्या है, को उदधृत करते हुए कहा कि उनकी इच्छा है कि सम्मेलन में ऐसा विचार विमर्श हो जिससे पीड़ित मानवता को हृदय रोग के दर्द से राहत मिले। बदलती जीवन शैली, अनुचित खान-पान और बिना व्यायाम के दिनचर्या ही हृदय रोग का बड़ा कारण है।
हृदय रोग के रोगी न सिर्फ बढ़ रहे हैं बल्कि हृदय रोग विकसित देशों के साथ साथ विकासशील देशों में भी फैल रहा है। हृदय रोग के कारण निम्न एवं मध्यम आय वर्ग के लोगों पर आर्थिक बोझ भी बढ़ रहा है। पहले लोगों का मानना था कि हृदय रोग केवल सम्पन्न एवं धनी लोगों का रोग है पर आज ग्रामीण क्षेत्र में भी आम आदमी हृदय रोग से पीड़ित है। हमें इलाज के साथ-साथ लोगों को रोग से बचाव के बारे में शिक्षित करने की आवश्यकता है। जीवन की आपा-धापी और भाग दौड़ से होने वाला मानसिक तनाव भी रोग का कारण है। उन्होंने कहा कि योग मन को शान्ति देता है। विशेषज्ञों एवं चिकित्सकों को नवोन्वेषण और अद्यतन ज्ञान के माध्यम से रोगियों को निदान दिलाने का प्रयास करना चाहिए।
हृदय रोग विशेषज्ञों के अनुसार इंटरवेंशन कार्डियोलॉजी के विकास के चलते आज दिल की करीब अस्सी प्रतिशत बीमारियों का इलाज बिना सर्जरी संभव हुआ है। एंजियोप्लास्टी तो हम लोग ढाई दशक से प्रचलन में है। अब वॉल्व रिप्लेसमेंट भी इस तकनीक से होने लगा है। वॉल्व रिप्लेसमेंट अभी मंहगा है भविष्य में इसकी कीमत कम हो सकती है। अधिवेशन में पन्द्रह सौ हृदय रोग विशेषज्ञ शामिल हुए। अनेक विशेषज्ञ दूसरे देशों से भी आये थे। शैक्षणिक सत्र में इन विशेषज्ञों ने भविष्य में आने वाली चुनौतियों के अनुरूप अनुसंधान पर चर्चा की। शोध पत्रों के माध्यम से जानकारी का आदान प्रदान किया गया।
Please follow and like us:
Pin Share

42 COMMENTS

  1. It is the best time to make some plans for the future and it is time to
    be happy. I have read this post and if I could I desire to
    suggest you few interesting things or tips. Maybe you could
    write next articles referring to this article.
    I want to read more things about it! I’ll immediately clutch your rss
    feed as I can not find your email subscription hyperlink or newsletter service.
    Do you’ve any? Please allow me understand in order that I could subscribe.
    Thanks. Hey! Someone in my Myspace group shared this
    website with us so I came to look it over. I’m definitely loving the information. I’m bookmarking and
    will be tweeting this to my followers! Fantastic blog and superb design and style.
    http://nestle.com

  2. I actually still can’t quite believe that I could possibly be one of those studying the important suggestions found on your blog.
    My family and I are sincerely thankful on your generosity and for providing me the
    potential to pursue my chosen profession path.
    Thank you for the important information I acquired from your blog.

  3. It is perfect time to make some plans for the future and it’s time to be happy.
    I’ve read this publish and if I could I want to suggest you few interesting things or
    advice. Maybe you could write subsequent articles referring
    to this article. I want to learn more things approximately it!

  4. Can I simply just say what a comfort to discover an individual who really knows what they are discussing over the
    internet. You definitely understand how to bring an issue to light and make it important.

    More and more people really need to check this out and understand this side
    of your story. It’s surprising you’re not more popular since you definitely possess the gift.

  5. Hi! I know this is somewhat off topic but I was wondering which blog platform
    are you using for this website? I’m getting tired of WordPress because
    I’ve had problems with hackers and I’m looking at options for another platform.
    I would be great if you could point me in the direction of a good platform.

  6. Howdy this is somewhat of off topic but I was wondering if blogs use WYSIWYG editors or
    if you have to manually code with HTML. I’m starting a blog soon but have no
    coding skills so I wanted to get advice from someone with
    experience. Any help would be enormously appreciated!

  7. Hello! I just wanted to ask if you ever have any issues with hackers?
    My last blog (wordpress) was hacked and I ended up losing a few
    months of hard work due to no backup. Do you have any solutions to prevent hackers?

  8. Today, I went to the beachfront with my kids. I found a sea
    shell and gave it to my 4 year old daughter and said “You can hear the ocean if you put this to your ear.” She put the shell to her ear and screamed.

    There was a hermit crab inside and it pinched her ear.
    She never wants to go back! LoL I know this is totally off topic but I had to tell someone!

  9. Thanks for every other informative website.
    Where else could I get that type of information written in such
    a perfect means? I’ve a undertaking that I’m simply
    now operating on, and I have been at the glance out for such information.

  10. Simply want to say your article is as astounding.
    The clearness to your publish is just spectacular and i could think you’re an expert on this subject.
    Fine along with your permission let me to snatch your feed to keep updated with coming near near post.

    Thanks one million and please continue the enjoyable work.

  11. Hello there, I found your web site by means of Google at the same time as looking for a comparable matter, your site came up, it
    seems to be great. I have bookmarked it in my google bookmarks.

    Hello there, just become alert to your blog through Google,
    and found that it is truly informative. I’m going to be careful for brussels.
    I’ll appreciate for those who continue this in future.
    Many other people shall be benefited out of your writing.
    Cheers!

  12. Hey Guys:) Ι’m a financially struggling university student presently studying French
    ɑt Royal Colplege ߋf Music. I’m in tthe midst of starting ԝork aas
    ɑn escort. Ιs it а gоod idea? Is it a good way
    ߋf making money? I һave ɑlready regvistered
    oon https://glamourescorts69.com🙂 Ӏs anyonee ɑt shagunnewsindia.com sᥙggest
    ɑny weⅼl-paying escort firms aas weⅼl aѕ directories?
    xxx

  13. Types of insurance – Insurance are available for everything and often those people don’t know of this insurance.
    There isn’t an secret formula or a transparent strategy permits guarantee your winnings on the internet pokies.

  14. Excellent post. I used tto be checking constantly this weblog and
    I’m impressed! Very helpful information specifically the last phase 🙂 I deal with succh info a lot.

    I used to be looking for ths certain information for
    a long time. Thank you and good luck.

  15. Wonderful blog! I found it while browsing
    on Yahoo News. Do you have any suggestions on how to get listed
    in Yahoo News? I’ve been trying for a while but I never seem to get
    there! Thank you

  16. Magnificent web site. Plenty of useful info here.
    I am sending it to several pals ans also sharing in delicious.
    And naturally, thanks to your effort!

  17. Does your site have a contact page? I’m having
    trouble locating it but, I’d like to send you an email.
    I’ve got some ideas for your blog you might be
    interested in hearing. Either way, great blog
    and I look forward to seeing it grow over time.

  18. Hi! This post couldn’t be written any better! Reading this post reminds me of my
    old room mate! He always kept talking about this. I will forward this
    article to him. Pretty sure he will have a good read. Thanks
    for sharing!

    Here is my website :: fx마진거래

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here