कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए उपयोगी हो सकता है ‘कटहल’

0
314

पोषक तत्वों से भरपूर, खाने से बढ़ती है रोग प्रतिरोधक क्षमता

कोरोना महामारी के दौर में हर व्यक्ति रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए तरह-तरह के उपाय कर रहा है। ऐसे में लोगों के लिए कटहल बहुत ही उपयोगी साबित हो सकता है। इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, बी-6, थायमीन, पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन और जिंक प्रचुर मात्रा में होता है। यह जायका के साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाने में सक्षम है। कटहल का इस्तेमाल न केवल सब्जी बनाने के लिए बल्कि इसका अचार, मुरब्बा बनाकर महीनों तक खाया जा सकता है। पकौड़े और कोफ्ता बनाने में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

इस संबंध में आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर एसके राय का कहना है कि कटहल में फाइबर भरपूर मात्रा में होता हैं। जिन लोगों को कब्ज की समस्या रहती है उनके लिए यह फायदेमंद है। यह पाचन क्रिया को भी ठीक करता है। इसमें मिनरल्स की भी भरपूर मात्रा होने के कारण स्वास्थ्य वर्धक भी है।

डॉक्टर राय ने बताया कि विटामिन हमारे शरीर में इम्यूनिटी सिस्टम को ठीक करता है। कटहल में कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम, मैग्निशियम, फोलिक एसिड, थायमीन और नियासी जैसे तत्व मिलते हैं। ये सभी हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करते हैं। कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम हमारी हड्डियों और मांस पेशियों को मजबूत करता है। ये सभी तत्व शरीर के के लिए काफी फायदेमंद हैं। वैसे भी कोरोना काल में हर एक व्यक्ति को मजबूत इम्यूनिटी की जरूरत है। इसके लिए यह फायदेमंद है।

उन्होंने बताया ​कि कटहल में पाया जाने वाला पोटैशियम हार्ट से जुड़ी बीमारियों से सुरक्षित रखता है। उच्च रक्तचाप के मरीजों के लिए ये बहुत ही फायदेमंद है। ये आयरन का एक अच्छा सोर्स है जिसकी वजह से एनीमिया से बचाव होता है। साथ ही इसके प्रयोग से ब्लड सर्कुलेशन भी नियंत्रित रहता है। इसमें पाए जाने वाले कई खनिज हार्मोन्स को भी नियंत्रित करते हैं।

उन्होंने कहा कि यह संक्रमण से बचाने के लिए भी बहुत उपयोगी है। इसका उपयोग फ्लू, वायरल और फीवर से बचाता है। इसके दैनिक उपयोग से गर्मी में होने वाली तमाम वायरस जनित बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here