बुरे फंसे आजम: कसा ईडी का शिकंजा, जौहर विवि के नाम पर विदेशों से लिये गए चंदे की होगी जांच

0
342

जौहर विविद्यालय के निर्माण में विदेशों से लिये गये चंदों की होगी जांच 

लखनऊ, 28 जुलाई 2019: लोकसभा की पीठासीन महिला अध्यक्ष रमा देवी का अपमान कर फंसे आज़म खान की मुसीबतें काम होने का नाम नहीं ले रही हैं ताज़ा मामला अब जौहर विविद्यालय की जाँच का है बता दें कि जौहर विविद्यालय के निर्माण में विदेशों से लिये गये चंदों की भी जांच होगी। इस सिलसिले में ईडी ने सबूत जुटाने शुरू कर दिये हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ईडी को पता चला है कि रामपुर के जौहर विवि निर्माण में गैरकानूनी रूप से विदेशों से करोड़ों रुपये चंदा लिया गया है। ईडी ने विविद्यालय का संचालन करने वाले मौलाना मोहम्मद अली जौहर ट्रस्ट के खातों एवं उसको अन्य प्रकार से मिली सहायता का विवरण मंगाया है। सभी तयों की पड़ताल करने के बाद प्रिवेंशन आफ मनी लांड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत केस दर्ज कर विवेचना की जाएगी। ईडी विवि निर्माण पर हुए खर्च का पूरा हिसाब ट्रस्ट से मांग सकता है।

वर्ष 2006 में स्थापित इस विविद्यालय के चांसलर आजम खां हैं। पूर्व में विवि को अल्पसंख्यक का दर्जा दिलाने का विवाद भी हो चुका है। इस प्रकरण में आजम ने तत्कालीन राज्यपाल टीवी राजेस्वर और बीएल जोशी पर आरोप लगाए थे। वर्ष 2014 में उत्तर प्रदेश का अतिरिक्त प्रभार मिलने पर उत्तराखंड के तत्कालीन राज्यपाल मोहम्मद अजीज कुरैशी ने संबंधित विधेयक को मंजूरी दे दी थी। हालत यह है कि आजम पर 50 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं।

Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here