जाति की ऐठन छोड़ो, गटर साफ करने वालों के तलवे साफ करो ! 

0
534
We positive 
Love you Modi
लखनऊ, 25 फरवरी 2019: सकारात्मक नजरिए से देखिएगा तो हर चीज में सकारात्मकता दिखाई देगी। ये मत कहिये कि चुनाव की तारीखे घोषित होने के एक सप्ताह पहले प्रधानमंत्री का सफाई कर्मचारियों/दलितों का पैर धोना खालिस राजनीति है। चुनावी झांसे हैं। चुनावी शिगूफे हैं। पब्लिसिटी स्टंट हैं। पिछली जातियों-दलितों को रिझाने की घिसी-पिटी चालें हैं। कुछ नहीं किया.. वादाखिलाफी की.. परफार्मेंस जीरो रही.. रोजगार देने के बजाय छीन लिए..  मंदिर भी नहीं बनवाई। पाकिस्तान से बदला भी नहीं लिया।
इस तरह की बकवास और नकारात्मक बातें मैं नहीं करूंगा। क्योंकि मै पाजिटिव सोच रखता है। नरेंद्र मोदी जी से मोहब्बत करता हूं। अभी भी बहुत उम्मीदें हैं इनसे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सफाई कर्मचारियों के पैर धो कर चुनावी प्रचार नहीं बल्कि वर्ण व्यवस्था की कुरीतियों को खत्म करने के लिए भारतीय समाज को बहुत काबिलेतारीफ संदेश दिया है। आरक्षण को एक नई ऊंचाई पर लाकर खड़ा कर दिया है।
छोटे और बड़े पेशों का गुलाम बनाकर जिस वर्ण व्यवस्था ने दलितों-पिछड़ों को सबसे पीछे खड़ा कर दिया था उसे गांधी और अंबेडकर ने बदलने की कोशिश की। नतीजतन भारतीय संविधान को आरक्षण का बेशकीमती तोहफा मिला। आज मोदी ने आरक्षण को और भी ऊंचाई पर पहुचाने के प्रयास आगे बढ़ाने का कदम उठाया है। आरक्षण स्वर्ण वर्गों से यही कहता था कि शिक्षा-नौकरी या किसी भी लाभ की लाइन में तुम पीछे हो जाओ, पिछड़ों – दलितों को आगे करो।
पैर धोकर मोदी ने इसमें एक नया अध्याय जोड़ने की कोशिश कर दी। यानी सवर्ण तुम पिछड़े-दलित से ऊंचे किस आधार पर हो ! अगर ये तुम खुद के और पुरखों के पेशे के आधार पर खुद को अगड़ा समझते हो तो ये गलत है। नाली और टट्टी साफ करने को अगर तुम छोटा पेशा समझते हो तो भूल जाओ ये सब। ये पेशा लोकतंत्र में सबसे बड़े पद प्रधानमंत्री के पद से भी ऊंचा है। प्रधानमंत्री जब पिछड़ों-दलितों, सफाई कर्मचारियों.. गटर-सीवर-ट्टटी साफ करने वालों के पैर साफ कर सकता है तो तुम्हारा भी ये फर्ज है कि तुम अपने या अपने पुरखों के कथित ऊंचे पेशे की ऐठन छोड़कर सफाई करने वालों के तलवे साफ करो !
यानी आज आरक्षण का ज्यादा लाभ लेने वालों को ये भी लाभ मिलने के संकेत मिल गये कि अब वो उनके तलवे धोयेंगे जिनके बराबर में भी नहीं बैठते थे। छुआछूत करते थे। साथ मे खाना नहीं खाते थे।
इसलिए हम सब मिलकर कहें मोदी जी आई लव यू।
We Love Modi
नवेद शिकोह
Please follow and like us:
Pin Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here