एक भारत श्रेष्ठ भारत पर विचार

0
269

लखनऊ विश्वविद्यालय के एक भारत श्रेष्ठ भारत इकाई जो भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधीन है के द्वारा राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया। इस वेबिनार का मुख्य विषय “देखो अपना देश“ अर्थात् भारत की अखण्ड सभ्यता, संस्कृति के साथ-साथ उसकी राजनैतिक, साामाजिक तथा आर्थिक पृष्ठभूमि की चर्चा सर्व प्रमुख थी।

इस वेबिनार का मुख्य उद्देश्य भारत की विविधता तथा एकता का पूरे भारत में विस्तृत चर्चा था। उक्त वेबिनार लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर आलोक राय के प्रेरणा की उपज थी। उक्त वेबिनार की अध्यक्षता पदमश्री प्रोफेसर बी. के. शुक्ला विभागाध्यक्ष, समाजशास्त्र विभाग, लखनऊ विश्वविद्यालय ने किया।

मुख्य अतिथि के रूप में परम् सम्माननीय प्रोफेसर रमेश भाई मकवाना जो समाजशास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष, सरदार वल्लभ भाई पटेल विश्वविद्यालय, आनंद, गुजरात से थे जिन्होने उक्त वेबिनार की प्रासंगिता को सरदार वल्लभ भाई पटेल की आकांक्षा से जोड़कर अपने विचार प्रस्तुत किए, उन्होने बताया कि वर्तमान सरकार की यह योजना सरदार वल्लभ भाई पटेल की विचारधारा जो भारत को विश्व गुरू बनाने के लिए थी उसका परिचायक है।

उक्त सेमिनार में अतिविशिष्ट अतिथि के रूप में श्री चंद्र प्रकाश, सीनियर आईपीएस, डीजी स्पेशल इन्क्वायरी, उत्तर प्रदेश पुलिस थे जिन्होने पुलिस की भूमिका तथा समाज की अपेक्षा पर अपने विस्तृत व्याख्यान प्रस्तुत किए।

वेबिनार मे विशिष्ट अतिथि के रूप में बैंगलोर विश्वविद्यालय की प्रोफेसर सुधा खोकटे थीं जिन्होने दक्षिण भारत के विभिन्न जननातियों की विशेषता पर अपने व्याख्यान प्रस्तुत किए। बेबिनार में विषय विशेषश्र के रूप में डाॅ दिलीप अग्निहोत्री, डाॅ. ध्रुव त्रिपाठी, डाॅ. अमरेश त्रिपाठी, डाॅ. मणिन्द्र त्रिपाठी सम्मिलित हुए। वेबिनार के मुख्य आयोजक में डाॅ. प्रमोद गुप्ता, समाजशास्त्र विभाग लखनऊ विश्वविद्यालय तथा डाॅ. संजय तिवारी सह-संयोजक के रूप में अपनी भूमिकाा का निर्वहन कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here